छत्तीसगढ़: क़रीब 70% मतदान, एक की मौत

  • 19 नवंबर 2013
छत्तीसगढ़ चुनाव 2013

छत्तीसगढ़ में मंगलवार को विधानसभा चुनाव के दूसरे और आख़िरी चरण का मतदान ख़त्म हो गया है. प्रारंभिक अनुमान के मुताबिक करीब 70 प्रतिशत मतदान हुआ है.

इसके अलावा बेमेतरा ज़िले के साजा इलाक़े में सीआरपीएफ़ जवानों और ग्रामीणों के बीच झड़प में एक ग्रामीण की मौत हो गई है.

मतदान पूरा होने के साथ ही कुल 72 सीटों पर चुनाव लड़ रहे 843 का चुनावी भविष्य चुनाव पेटियों में बंद हो गया है.

मतदान के दौरान शहरी क्षेत्रों में कई प्रत्याशियों ने मतदाता सूची में अपना नाम न होने की शिकायत की.

रायपुर दक्षिण विधानसभा की मतदाता सूची से क़रीब आठ हज़ार लोगों का नाम मतदाता सूची से ग़ायब था.

यहां से चुनाव लड़ रहे भाजपा प्रत्याशी बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि वो मतदाता सूची से नाम ग़ायब होने का मामला सुप्रीम कोर्ट ले जाएंगे.

शहरी इलाक़ों में दिनभर चुनाव को लेकर गहमागहमी रही. मतदान केंद्रों पर मतदाताओं की लंबी-लंबी कतारें देखी गईं.

दूसरा चरण

दूसरे चरण के चुनाव में सबसे अधिक प्रत्याशी रायपुर दक्षिण में 38 और सबसे कम पांच उम्मीदवार सराईपाली से मैदान में थे.

दूसरे चरण में जिन सीटों पर मतदान हुआ, उनमें सामान्य वर्ग की 46, अनुसूचित जनजाति वर्ग की 17 और अनुसूचित जाति वर्ग की नौ सीटें थीं.

इस चुनाव से शुरू हुए नए विकल्प नोटा (उपरोक्त में से कोई नहीं) के बारे में शहरी क्षेत्रों के लोगों को जानकारी थी.

ग्रामीण क्षेत्रों में मतदाताओं ने इस विकल्प के बारे में अनभिज्ञता जताई. हालांकि चुनाव अधिकारियों ने कहा कि उन्होंने इस विकल्प के बारे काफ़ी प्रचार किया है.

प्रमुख उम्मीदवार

इस चरण में राज्य के नौ मंत्रियों समेत विधानसभा अध्यक्ष धरम कौशिक, विपक्ष के नेता रवींद्र चौबे, पूर्व मंत्री मोहम्मद अकबर, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष प्रेमप्रकाश पांडेय, पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी की पत्नी डॉक्टर रेणु जोगी, उनके पुत्र अमित जोगी चुनाव मैदान में थे.

यदि पिछले विधानसभा चुनाव के नतीजे देखें, तो इस चरण में जिन सीटों पर चुनाव हो रहा है, उनमें भाजपा और कांग्रेस दोनों में कांटे की टक्कर हुई थी और दोनों पार्टियों को 35-35 सीटों पर सफलता मिली थी, जबकि बहुजन समाज पार्टी ने दो सीटों पर परचम लहराया था.

इस बार भी भाजपा और कांग्रेस के बीच कड़ा मुक़ाबला देखने को मिल रहा है. हालांकि भाजपा और कांग्रेस दोनों को कई सीटों पर बाग़ियों की चुनौती से जूझना पड़ रहा है.

दूसरे चरण के लिए चुनाव प्रचार का काम रविवार शाम पांच बजे समाप्त हो गया था. छत्तीसगढ़ में 11 नवंबर को पहले चरण के मतदान में 18 सीटों पर वोट डाले गए थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार