शिविरों में पीड़ित नहीं, कांग्रेसी और भाजपाई: मुलायम

  • 24 दिसंबर 2013
राहत शिविर

मुज़फ़्फ़रनगर दंगा पीड़ितों पर समाजवादी पार्टी प्रमुख मुलायम सिंह के बयान पर काफ़ी तीखी प्रतिक्रिया हुई है.

मुलायम सिंह ने एक बेहद विवादित बयान देते हुए कहा था कि अब राहत शिविरों में दंगा पीड़ित नहीं रह रहे हैं बल्कि वहाँ रहने वाले कांग्रेस और भाजपा के समर्थक हैं.

सपा प्रमुख के अनुसार पीड़ित तो घर लौट चुके हैं.

मुलायम सिंह का कहना था, ''कैंपों में रहने वाले दंगा पीड़ित नहीं हैं. जो लोग वहां रह रहे हैं वे षड्यंत्रकारी हैं जो दरअसल बीजेपी और कांग्रेस के समर्थक हैं. राहुल गांधी इस मुद्दे को चुनाव तक जीवित रखना चाहते हैं."

ग़ौरतलब है कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने रविवार को राहतशिविरों का दौरा किया था.

राहत शिविरों में लोगों की दयनीय हालत पर प्रतिक्रिया देते हुए राहुल गांधी ने कहा था कि वह मुख्यमंत्री अखिलेश सिंह से अनुरोध करेंगे कि वह राहत शिविरों पर भी थोड़ा ध्यान दें.

राहुल के बयान पर अखिलेश सिंह ने कहा था कि अगर उनके पास कोई सुझाव हैं तो वे उन्हें दे सकते हैं लेकिन राहुल गांधी के दौरे के अगले ही दिन मुलायम सिंह ने ये विवादित बयान दे दिया.

'नाकामी छिपाने की कोशिश'

मुलायम के इस बयान पर तीव्र प्रतिक्रिया देते हुए मुसलमानों के एक प्रमुख धार्मिक संगठन जमीयतुल-उलेमा-हिंद के महासचिव महमूद मदनी ने कहा, ''उन्होंने अपनी नाकामी को छिपाने की कोशिश की है जो बहुत भौंडी है. अफ़सोस की बात है कि ज़ालिमों के ख़िलाफ़ कोई कार्रवाई नहीं हो रही है.''

मदनी ने कहा कि ये बहुत हैरत की बात है कि जो लोग अपने घरों से दूर उन कैंपों में रह रहे हैं, मुलायम उन्हें दंगा प्रभावित मानने को तैयार नहीं हैं.

कांग्रेस की प्रतिक्रिया भी कुछ इसी प्रकार की है.

कांग्रेस के प्रवक्ता मीम अफ़ज़ल ने कहा, ''मुलायम सिंह ने कैसे ये बात कही, बड़ी हैरत की बात है. मुलायम सिंह से मैं ये उम्मीद नहीं करता कि वह पीड़ितों को षड्यंत्रकारी कहेंगे.''

बीजेपी नेता मुख़्तार अब्बास नक़वी ने कहा कि मुलायम सिंह पीड़ितों के ज़ख़्म पर मरहम तो नहीं लगा रहे उल्टे उसमें सुई चुभो रहे हैं.

बीजेपी के प्रवक्ता राजीव प्रताप रूड़ी ने कहा कि मुलायम सिंह का बयान अपने आप में अंतर्विरोधी है.

रूड़ी ने मुलायम पर चुटकी लेते हुए कहा, ''पिछले तीन साल से सोनिया, राहुल और मनमोहन सिंह की यूपीए सरकार मुलायम सिंह के समर्थन से ही चल रही है.''

जनता दल-यू और वामपंथी पार्टियों ने भी मुलायम सिंह के बयान की निंदा की है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार