सफ़ाई देने दिल्ली पहुँचे हिमाचल के मुख्यमंत्री

  • 1 जनवरी 2014
कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के आवास के बाहर प्रदर्शन करते भाजपा नेता अनुराग ठाकुर

भ्रष्टाचार के आरोपों सामना कर रहे हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह को कांग्रेस हाईकमान ने सफाई देने के लिए दिल्ली बुलाया है.

मंगलवार को दिल्ली पहुँचे वीरभद्र सिंह ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर उन पर और अपने परिवार पर दुर्भावना से प्रेरित होकर झूठा प्रचार करने का आरोप लगाया.

समाचार एजेंसियों के मुताबिक़ दिल्ली में वो कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाक़ात कर सकते हैं.

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी आजकल किसी भी तरह के भ्रष्टाचार के ख़िलाफ लड़ने की बात रहे हैं. भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को उनके आवास के सामने प्रदर्शन कर वीरभद्र सिंह से इस्तीफ़े की मांग की.

कांग्रेस की परीक्षा

भाजपा नेता अरुण जेटली ने वीरभद्र सिंह पर एक निजी बिजली कंपनी से उसकी परियोजना को विस्तार देने के लिए रिश्वत लेने का आरोप लगाया है.

नई दिल्ली में सोमवार को आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में अरुण जेटली ने कहा था, '' यह कांग्रेस के लिए भी एक परीक्षा है और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी के लिए भी. इन आंकड़ों के देखने के बाद क्या वे गुस्से में हैं. आर्दश मामले में दिखाया गया उनका गुस्सा क्या वास्तविक था या केवल दिखावे के लिए था.''

भाजपा नेता ने इसको लेकर प्रधानमंत्री को पांच पन्नों का एक पत्र भी भेजा है. इसमें उन्होंने वीरभद्र सिंह पर लगे आरोपों की जांच आयकर विभाग और केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से कराने की मांग की है. भाजपा नेता ने इन आरोपों को सबसे पुख्ता सबूतों वाला बताया था.

कांग्रेस मुख्यमंत्री की पत्नी प्रतिभा सिंह पर भी रिश्वत लेने का आरोप है. उन्होंने भी कांग्रेस मुख्यालय जाकर पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से मुलाक़ात की.

अरुण जेटली की ओर से लगाए गए आरोपों से इनकार करते हुए वीरभद्र सिंह ने आठ पन्ने का एक बयान जारी किया है.

वीरभद्र सिंह ने अपने बयान में कहा है, ''भाजपा के हताश नेता झूठी कहानियां गढ़ रहे हैं . वे अपनी सुविधा के अनुसार तथ्यों को तोड़-मरेाड़ रहे हैं. वह मेरे आयकर रिटर्न और मेरे परिवार की ओर से लिए गए कर्ज से जुड़े वही पुराने मुद्दे उठा रहे हैं, जिसका जवाब और सफाई समय-समय पर दी जा चुकी है. इसमें कुछ भी नया नहीं है.''

वहीं इस मुद्दे पर भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) के कार्यकर्ताओं ने संगठन के अध्यक्ष और सासंद अनुराग सिंह ठाकुर के नेतृत्व में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के आवास पर प्रदर्शन किया और वीरभद्र सिंह से इस्तीफ़ा देने की मांग की.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार