महारानी, राजकुमार के बाद अब नौकर को जिताओ: कुमार विश्वास

कुमार विश्वास, आम आदमी पार्टी इमेज कॉपीरइट AFP

रविवार को अमेठी में एक रैली को दौरान आम आदमी पार्टी के नेता कुमार विश्वास के ख़िलाफ़ नारे लगाए गए और काले झंडे दिखाए गए. इससे पहले अमेठी जाते समय उनके काफ़िले पर पत्थरबाजी की गई और काले झंडे दिखाए गए थे.

कुमार विश्वास ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा, "राहुल गांधी हमारे नेता थे लेकिन उन्होंने दस साल में एक बार भी संसद में अमेठी का सवाल नहीं उठाया."

कुमार विश्वास ने अमेठी की जनता से अपील करते हुए कहा, "आपने बहुत युवराज जिताए हैं, बहुत महाराज जिताए हैं, बहुत महारानी जिताई हैं, एक बार एक नौकर को जिताएँ."

रैली से पहले प्रदर्शनकारियों ने कुमार विश्वास का पुतला भी फूँका था. प्रदर्शनकारी कथित तौर पर कुमार विश्वास की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुँचाने वाले कविता से नाराज़ थे.

प्रदर्शनकारियों ने विश्वास की रैली के लिए आम आदमी के समर्थकों को ला रही दो बसों पर अंडे और पत्थर फेंके थे.

आरोप प्रत्यारोप

विश्वास ने इस घटना को विरोधी दलों की हरकत बताते हुए कहा था कि विरोधी आम आदमी पार्टी के उभार से ख़तरा महसूस कर रहे हैं.

कुमार विश्वास अमेठी में एक जनसभा को संबोधित करने गए थे.

उत्तर प्रदेश कांग्रेस नेता रीता बहुगुणा जोशी ने आज की घटना पर कहा "कुमार विश्वास कवि है लेकिन राजनीतिक मंच पा कर इस समय अहंकार से भर गए हैं. उनको अपने विवादास्पद बयानों के कारण विरोध का सामना करना पड़ रहा है ना कि कांग्रेस के कारण."

जोशी ने कहा कि अगर कुमार विश्वास मे दम हो तो वो जा कर किसी बाहुबली या पूंजीपति के ख़िलाफ़ चुनाव लड़ें. राहुल गाँधी के ख़िलाफ़ लड़ना महज़ सस्ती लोकप्रियता हासिल करने का तरीका है.

उत्तर प्रदेश भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता विजय बहादुर पाठक ने कहा "हम किसी से नहीं डरते हैं ना ही हम किसी के ख़िलाफ़ हैं. आप पार्टी के नेताओं को खुद सोचना होगा की क्यों उनका विरोध हो रहा है."

अमेठी से कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी सांसद हैं. कुमार विश्वास ने आगामी आम चुनावों में राहुल गाँधी के ख़िलाफ़ अमेठी से चुनाव लड़नी की बात कही है. हालांकी आम आदमी पार्टी की तरफ़ से इसकी आधिकारिक घोषणा नहीं हुई है.

शनिवार को लखनऊ में एक पत्रकार वार्ता के दौरान भी कुमार विश्वास पर अंडे फेंके गए थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार