यौन शोषण के आरोप के बाद मंत्री का इस्तीफ़ा

शबीर अहमद ख़ान इमेज कॉपीरइट BBC Urdu

भारत प्रशासित कश्मीर में एक वरिष्ठ मंत्री ने यौन शोषण का आरोप लगने के बाद अपने पद से इस्तीफ़ा दे दिया है.

सरकारी सूत्रों ने बीबीसी से शब्बीर अहमद ख़ान के इस्तीफ़े की पुष्टि की है.

शब्बीर अहमद ख़ान के ख़िलाफ़ शिकायत की गई थी कि उन्होंने कथित तौर पर एक महिला डॉक्टर के साथ अपने चैंबर में बलात्कार का प्रयास किया. यह जानकारी आधिकारिक सूत्रों ने बीबीसी को दी है.

शब्बीर अहमद ख़ान जम्मू-कश्मीर में स्वास्थ्य राज्य मंत्री थे. उन्होंने बार-बार किए गए फ़ोन का जवाब नहीं दिया. पुलिस ने अदालत से उनकी गिरफ़्तारी का वॉरंट हासिल कर लिया है और पुलिस उस पर अमल करने जा रही है.

लेकिन पूर्व मंत्री के नज़दीकी सूत्रों का कहना है कि वे जल्द सी स्थानीय अदालत के सामने पेश होने वाले हैं.

महिला डॉक्टर ने आरोप लगाया है कि मंत्री ने उनसे कुछ दिन पहले श्रीनगर स्थित अपने ऑफ़िस आने के लिए कहा था जहाँ उन्होंने उनके साथ अनुचित व्यवहार किया और उनका उत्पीड़न किया.

'बर्बरतापूर्ण कृत्य'

इस घटना की जानकारी सार्वजनिक होने के बाद सिविल सोसायटी के विभिन्न समूहों और मेडिकल बिरादरी के लोगों ने अपनी नाराज़गी जताई है.

डॉक्टरों ने इसे 'बर्बरतापूर्ण कृत्य' बताते हुए सप्ताहांत में एक दिन की हड़ताल की घोषणा की है.

कश्मीर के डॉक्टर्स एसोसिएशन के प्रेसिडेंट डॉक्टर निसारुल ख़ान ने कहा, "सरकार को क़ानून के साथ राजनीति का घालमेल नहीं करना चाहिए. अगर अभियुक्त दोषी पाया जाता है तो उसे भारत सरकार द्वारा अपनाए गए नए क़ानून के मुताबिक़ सज़ा मिलनी चाहिए."

शबीर अहमद ख़ान कांग्रेस पार्टी से हैं, जो स्थानीय नेशनल कांफ्रेंस सरकार के साथ सत्ता में भागीदारी करती है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार