आंध्र प्रदेश के सीएम किरण कुमार रेड्डी ने इस्तीफ़ा दिया

इमेज कॉपीरइट AFP

आंध्र प्रदेश के मुख्य मंत्री किरण कुमार रेड्डी ने तेलंगाना विधेयक के लोकसभा में पारित होने के विरोध में इस्तीफ़ा दे दिया है. उन्होंने विधान सभा की सदस्यता और कांग्रेस पार्टी से भी इस्तीफ़ा दे दिया है.

रेड्डी के साथ कई विधायकों ने भी इस्तीफ़ा दे दिया जिनमें विधान परिषद के कुछ सदस्य भी शामिल हैं.

हैदराबाद में स्थानीय पत्रकार धनंजय ने बीबीसी को बताया कि राज्यपाल को इस्तीफ़ा सौंपने के बाद किरण कुमार रेड्डी सीधे अपने घर चले गए.

इससे पहले, आंध्र के छह मंत्रियों और कई विधायकों ने मंगलवार को ही इस्तीफ़ा दे दिया था.

लोकसभा में मंगलवार को भारी विरोध और शोर-शराबे के बीच तेलंगाना विधेयक पारित किया था जबकि राज्यसभा में इस विधेयक को बुधवार को पेश किया जाएगा.

मंगलवार को जब इस विधेयक पर मतदान हो रहा था उस वक्त सदन की कार्यवाही का प्रसारण भी रोक दिया गया था.

लोकसभा में तेलंगाना विधेयक के पारित होने के बाद ही आंध्र प्रदेश के सीमांध्र इलाके में इसके विरोध की आग भड़क गई. मंगलवार रात से ही विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए.

बंद

उधर, तेलुगु देशम पार्टी और वाईएसआर कांग्रेस पार्टी समेत कई राजनीतिक दलों ने सीमांध्र के तेरह ज़िलों में बंद का आह्वान किया है. कई छात्र संगठनों ने बुधवार से दो दिनों के बंद का आह्वान किया है. सीमांध्र के सभी ज़िलों के शिक्षण संस्थानों को दो दिनों के लिए बंद कर दिया गया है.

स्थानीय पत्रकार धनंजय के मुताबिक सरकारी कर्मचारी भी बंद में शामिल हैं और अस्पतालों में आपात सेवाओं के अतिरिक्त और सभी सेवाएं बंद हैं.

सीमांध्र के सभी ज़िलों में रात से ही लोगों ने कांग्रेस पार्टी और सोनिया गांधी के खिलाफ प्रदर्शन किया और जगह-जगह सोनिया गांधी के पुतले जलाए गए.

इसके अलावा राज्य में यातायात भी बुरी तरह से प्रभावित हुआ है. आशंका जताई जा रही है कि बंद के दौरान यातायात की स्थिति और बिगड़ सकती है. राज्य परिवहन की हज़ारों बसें नहीं चल रही हैं और वो डिपो में ही खड़ी हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार