बिहार: लालू प्रसाद और कांग्रेस आख़िर साथ-साथ

लालू यादव, अशोक चौधरी, पटना इमेज कॉपीरइट PTI

कांग्रेस और राष्ट्रीय जनता दल के बीच बिहार चुनाव के लिए गठबंधन हो गया है.

राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव और बिहार कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अशोक चौधरी ने बुधवार को पटना में एक प्रेस कॉन्फ़्रेंस में इसका ऐलान किया.

दोनों पार्टियों के बीच हुई सहमति के मुताबिक कांग्रेस 12 सीटों पर चुनाव लड़ेगी जबकि राष्ट्रीय जनता दल 27 सीटों पर और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी एक सीट पर चुनाव लड़ेगी.

पटना में राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने गठबंधन का ऐलान करते हुए कहा, "कांग्रेस सासाराम, किशनगंज, औरंगाबाद, सुपौल, हाजीपुर, पूर्णिया, पटना साहिब, नालंदा, समस्तीपुर, गोपालगंज, मुज़फ़्फ़रपुर और बाल्मीकिनगर से चुनाव लड़ेगी. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी कटिहार से चुनाव लड़ेगी. जबकि बाकी की 27 सीटों पर राजद के उम्मीदवार खड़े होंगे."

पिछले चुनाव में कांग्रेस को सासाराम और किशनगंज सीटों पर जीत मिली थी. केरल के राज्यपाल रहे निखिल कुमार के औरंगाबाद से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ने की संभावना जताई जा रही है. निखिल कुमार ने मंगलवार को पद से इस्तीफ़ा दिया था.

'गठबंधन न करना भूल थी'

लालू ने इस बात को स्वीकार किया कि साल 2009 में कांग्रेस से गठबंधन न करना उनकी भूल थी. उन्होंने ये भी कहा कि छोटे दलों और नेताओं का इस गठबंधन में स्वागत है.

वहीं राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के बिहार अध्यक्ष नागमणि इस गठबंधन में एक ही सीट मिलने से नाराज़ हैं. वो गुरुवार दिल्ली में प्रेस कॉन्फ़्रेंस कर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी से इस्तीफ़ा देंगे.

उन्होंने बीबीसी से बातचीत में भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी की तारीफ़ की. इसके बाद कयास लगाए जा रहे हैं कि वो भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो सकते हैं.

बिहार में लोकसभा की 40 सीटें हैं. जनता दल यूनाइटेड अकेले चुनाव लड़ना चाहता है जबकि भाजपा और राम विलास पासवान की लोक जनशक्ति पार्टी के बीच गठबंधन हो चुका है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार