'गुजरात के मुख्यमंत्री की शक्ति फ़ोन टैप करने में लगती है'

राहुल गांधी इमेज कॉपीरइट AFP

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को महाराष्ट्र के लातूर में एक चुनाव रैली में कहा कि गुजरात के मुख्यमंत्री और पुलिस की शक्ति महिलाओं के फ़ोन टैप करने में लगती है.

राहुल ने कहा, "गुजरात में मुख्यमंत्री की शक्ति यानी गुजरात की जनता की शक्ति का इस्तेमाल एक महिला के फ़ोन टैप करने के लिए हो रहा है. एक महिला के पीछे पुलिस को दौड़ाया जा रहा है. और दिल्ली में पोस्टर लगाया जा रहा है कि हिन्दुस्तान में हम महिलाओं को शक्ति देंगे."

उन्होंने कहा कि दिल्ली में लगे भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के पोस्टर में कहा गया है कि हम महिलाओं को शक्ति देंगे लेकिन छत्तीसगढ़ में बीस हज़ार महिलाएँ गायब हो गईं और बैंगलोर में महिलाओं की पिटाई की जाती है.

राहुल ने कहा कि यही भाजपा और कांग्रेस में फर्क है. उन्होंने कहा, "कांग्रेस जनता की शक्ति का प्रयोग जनता की भलाई के लिए करती है. हम चाहते हैं कि सबकी इज़्ज़त हो."

भ्रष्टाचार पर एक पंक्ति

राहुल ने भ्रष्टाचार के मुद्दे पर भी भाजपा की आलोचना की.

उन्होंने कहा कि हम सूचना का अधिकार लाए जिससे आप मुख्यमंत्री कार्यालय में हर काम की जानकारी ले सकते हैं. हम लोकपाल विधेयक लाए. लेकिन भाजपा के घोषणापत्र में भ्रष्टाचार पर बस एक पंक्ति लिखी है कि भ्रष्टाचार के ख़िलाफ़ हम लड़ाई लड़ेंगे.

राहुल ने कहा, "भाजपा भ्रष्टाचार से लड़ने के लिए क्या करेगी, क्या कानून लाएगी इस बारे में उसके घोषणापत्र में एक पंक्ति नहीं लिखी गई है, बस भ्रष्टाचार के ख़िलाफ़ लड़ाई लड़ेंगे. "

राहुल ने कहा कि हमने अपने घोषणापत्र में बताया है कि हम भ्रष्टाचार दूर करने के लिए कौन-कौन सा विधेयक लाएंगे.

शनिवार को राहुल गांधी ने उत्तर प्रदेश की अमेठी लोकसभा से चुनाव लड़ने के लिए अपना नामांकन किया. भाजपा नेता स्मृति ईरानी और आम आदमी पार्टी के नेता कुमार विश्वास भी अमेठी से चुनाव लड़ रहे हैं. राहुल 2004 और 2009 में अमेठी से लोकसभा चुनाव जीत चुके हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार