बनारस: नरेंद्र मोदी के ख़िलाफ़ अंसारी-अजय एक

अजय राय इमेज कॉपीरइट atul chandra
Image caption बनारस में अजय राय कांग्रेस के उम्मीदवार हैं

वाराणसी से क़ौमी एकता दल के नेता मुख्तार अंसारी के भाई अफ़ज़ाल अंसारी ने कहा है कि वो भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी को रोकने के लिए कांग्रेस के उम्मीदवार अजय राय का समर्थन करेंगे.

उन्होंने कहा कि वो अजय राय के समर्थन में क़ौमी एकता दल के नेता अफ़ज़ाल अंसारी वोट भी मांगेंगे.

भाजपा ने वाराणसी में नरेंद्र मोदी को उतारा है जबकि आम आदमी पार्टी के नेता अरविंद केजरीवाल भी इस सीट से भाग्य आज़मा रहे हैं.

मंगलवार को अफ़ज़ाल अंसारी ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा, "हो सकता है कि हमारा क़दम अप्रत्याशित लगे लेकिन दूरदृष्टि से लोकसभा चुनाव से सरकार के गठन तक का फ़ैसला लिया है. हम अजय राय का समर्थन करेंगे और उनके लिए वोट मांगेंगे."

बीबीसी संवाददाता मोहन लाल शर्मा से बाचचीत में अजय राय ने ख़ुद को समर्थन दिए जाने का स्वागत किया.

'स्थानीय बनाम बाहरी'

साल 2009 के लोकसभा चुनाव में वाराणसी सीट पर अजय राय, मुरली मनोहर जोशी और मुख़्तार अंसारी के बीच मुकाबला हुआ था, जिसमें मुरली मनोहर जोशी जीते थे.

अफ़ज़ाल अंसारी ने कहा कि कांग्रेस के उम्मीदवार अजय राय स्थानीय उम्मीदवार हैं. उन्होंने ये भी दावा किया कि कांग्रेस ने क़ौमी एकता दल से समर्थन भी मांगा था.

वहीं अजय ने कौमी एकता दल के फ़ैसले का स्वागत किया है.

जब उनसे पूछा गया कि क्या इससे उनकी उपस्थिति मज़बूत होगी, तो उन्होंने कहा, "हमारी स्थिति पहले से ही मज़बूत थी. यहां पर लडा़ई स्थानीय बनाम बाहरी की है. मोदी बाहरी आदमी हैं."

अजय राय ने कहा, "अंसारी का मुसलमानों में ख़ासा प्रभाव है और उन्होंने हमें समसर्थन दिया है तो उनका हम स्वागत करते हैं."

वोटों के ध्रुवीकरण पर उन्होंने कहा, "काशी, जिसे भाजपा का बेस कहा जाता है, वहां अभी-अभी हमने डेढ़ हज़ार लोगों के साथ सभा की है. वहां बाहरी उम्मीदवार के नाम पर सब लोग नाराज़ हैं. जिससे हम मिल न सकें, जिससे अपनी बात न कह सके, उसे क्या वोट करेंगे."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार