'नीच राजनीति' वाले बयान पर वाकयुद्ध तेज़

नरेंद्र मोदी इमेज कॉपीरइट GETTY IMAGES

भारतीय जनता पार्टी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी पर प्रियंका गांधी के बयान को लेकर भाजपा और कांग्रेस के बीच वाकयुद्ध छिड़ गया है.

मोदी ने ट्वीट कर आरोप लगाया कि 'नीच राजनीति' की टिप्पणी कर प्रियंका गांधी ने उनका अपमान किया है, क्योंकि वो एक पिछड़ी जाति से आते हैं.

उन्होंने मंगलवार को उत्तर प्रदेश के डुमरियागंज में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा, ''मैं इससे इनकार नहीं करता कि 'नीच जाति' में मैंने जन्म लिया है, लेकिन क्या यह अपराध है?''

भाजपा ने भी प्रियंका गांधी की टिप्पणी को जातिवादी बताते हुए उसकी निंदा की.

कांग्रेस ने स्पष्टीकरण देते हुए कहा कि प्रियंका ने इस तरह की कोई बात नहीं कही थी और वो केवल भाजपा के निम्नस्तरीय राजनीति के बारे में बता रही थीं.

कांग्रेस प्रवक्ता राशिद अल्वी ने आरोप लगाया कि नरेंद्र मोदी हताशा में जाति की राजनीति कर रहे हैं.

उन्होंने कहा, ''यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है कि प्रियंका गांधी की टिप्पणी को राजनीतिक लाभ के लिए उन्होंने तोड़ा मरोड़ा. भाजपा में, चाहे वो किसी भी जाति से हो, सभी निम्नस्तरीय राजनीति कर रहे हैं.''

अल्वी ने कहा, ''कोई नहीं जानता कि मोदी किस जाति से संबंधित हैं. उन्होंने खुद ही घोषित किया है कि वे पिछड़े वर्ग से हैं. वो यही राजनीति कर रहे हैं. अब वो इस स्तर तक आ गए हैं.''

गौरतलब है कि अमेठी में सोमवार को प्रियंका ने मोदी को निशाना बनाते हुए कहा था कि उन्होंने अमेठी की धरती पर उनके शहीद पिता का अपमान किया है.

प्रियंका ने कहा था कि गुजरात के मुख्यमंत्री 'नीच राजनीति' कर रहे हैं.

मोदी के ट्वीट

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption सोमवार को प्रियंका गांधी ने कहा था कि उन्होंने अमेठी की धरती पर उनके शहीद पिता का अपमान किया है. वो ''नीच राजनीति'' कर रहे हैं.

मंगलवार को मोदी ने खुद के पिछड़ी जाति से आने का मुद्दा उठाते हुए कांग्रेस की स्टार प्रचारक प्रियंका गांधी पर जवाबी हमला बोला.

उन्होंने एक के बाद एक चार ट्वीट किए. उन्होंने लिखा, ''सामाजिक रूप से निचले वर्ग से आया हूँ इसलिए मेरी राजनीति उन लोगों के लिये ‘नीच राजनीति’ ही होगी.''

सोशल वेबसाइट पर उन्होंने लिखा है, ''हो सकता है कुछ लोगों को यह नज़र नहीं आता हो, पर निचली जातियों के त्याग, बलिदान और पुरुषार्थ की, देश को इस ऊँचाई पर पहुँचाने में अहम भूमिका है. इसी ‘नीच राजनीति’ की ऊँचाई पिछले 60 सालों के कुशासन और वोट बैंक की राजनीति से भारत को मुक्त कर ..भारत माँ के कोटि-कोटि जन के आँसू पोंछेगी."

मोदी ने कहा, ''इसी ‘नीच राजनीति’ की ऊँचाई भारत माँ को एक समृद्ध और शक्तिशाली राष्ट्र के रूप में विश्व में स्थान दिलाने की ताक़त रखती है.''

इस बीच भाजपा ने मोदी का बचाव करते हुए कहा कि 'नीच' शब्द के इस्तेमाल में प्रियंका भ्रमित थीं.

भाजपा प्रवक्ता निर्मला सीतारमण ने कहा, ''वो इसके असर को नहीं समझतीं, वो भी उस समय जब देश जातिगत राजनीति से खुद को बाहर निकालने की कोशिश कर रहा है.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार