मनमोहन के लिए सोनिया का भोज, राहुल नहीं आए

मनमोहन सिंह, भारत के प्रधानमंत्री इमेज कॉपीरइट ap

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के सम्मान में बुधवार की रात विदाई भोज का आयोजन किया.

इस रात्रि भोज में कांग्रेस के तमाम बड़े नेताओं समेत अनेक केंद्रीय मंत्री मौजूद थे लेकिन पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी इसमें शामिल नहीं हुए.

इसी हफ्ते प्रधानमंत्री का पद छोड़ रहे मनमोहन सिंह के सम्मान में सोनिया गाँधी ने अपने आवास 10, जनपथ पर भोज का आयोजन किया था.

मनमोहन सिंह को इस कार्यक्रम में एक स्मृति-चिह्न भेंट किया गया और उनकी उपलब्धियों को याद किया गया, लेकिन विदाई समारोह में कोई भाषण नहीं दिया गया.

हालांकि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के रात्रिभोज में शामिल ना होने को लेकर अटकलों का दौर चलता रहा. कहा जा रहा है कि राहुल विदेश यात्रा पर गए हैं और शुक्रवार को लोकसभा चुनावों की मतगणना शुरू होने से पहले वापस आ जाएंगे.

केंद्रीय मंत्री कमलनाथ ने कहा, 'मुझे नहीं पता कि उन्होंने क्यों हिस्सा नहीं लिया. केंद्रीय मंत्री आरपीएन सिंह का कहना था, 'यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि इसपर राजनीति की जा रही है.'

इमेज कॉपीरइट PTI

इससे पहले, मंगलवार को कार्यालय में अपने आख़िरी दिनप्रधानमंत्री ने सभी कर्मचारियों का शुक्रिया अदा किया था.

एक दिन पहले ही भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के निशाने पर रहने वाले प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की अरुण जेटली ने तारीफ़ की थी.

प्रधानमंत्री की तारीफ़ों के पुल बांधते हुए भाजपा नेता और राज्यसभा में प्रतिपक्ष के नेता अरुण जेटली ने अपने ब्लॉग में कहा कि मनमोहन सिंह की निजी सत्यनिष्ठा हमेशा संदेह से परे रही है.

कुछ दिनों पूर्व प्रधानमंत्री के सलाहकार रहे संजय बारु की किताब 'द एक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर' की वजह से मनमोहन सिंह के कार्यकाल को मीडिया की सुर्ख़ियों में ला दिया था.

81 वर्षीय मनमोहन सिंह ने एक पत्रकार वार्ता के दौरान कहा था कि लगातार तीसरी बार यूपीए की सरकार बनने पर वह प्रधानमंत्री नहीं बनेंगे.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार