मोदी ने वडोदरा सीट छोड़ी, बनारस के सांसद रहेंगे

नरेंद्र मोदी इमेज कॉपीरइट PTI

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात में वडोदरा लोकसभा सीट छोड़ दी है और उत्तर प्रदेश की वाराणसी सीट को बरकरार रखने की घोषणा की है.

मोदी ने दोनों सीटों से लोकसभा चुनाव में भारी मतों से जीत दर्ज की थी.

उन्होंने वाराणसी से आम आदमी पार्टी के अरविंद केजरीवाल और कांग्रेस पार्टी के अजय राय को शिकस्त दी थी.

भारत के नए प्रधानमंत्री ने वडोदरा सीट से कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवार मधुसूदन मिस्त्री को लगभग पाँच लाख 70 हज़ार वोटों से हराया था.

साल 2009 में भाजपा के वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी वाराणसी सीट से सांसद चुने गए थे.

बनारस: 'पीपली लाइव बन गया है ये चुनाव'

14 दिनों की समय सीमा

हाल ही में हुए लोकसभा चुनाव में मुरली मनोहर जोशी ने वाराणसी से मोदी के नाम की घोषणा के बाद कानपुर सीट से चुनाव लड़ा और वो वहां से चुने गए.

नियमों के मुताबिक दो लोकसभा सीटों से चुनाव जीतने वाले नेता को चुनाव परिणाम घोषित होने के 14 दिनों के भीतर एक सीट छोड़नी पड़ती है.

इमेज कॉपीरइट AP

16 मई को चुनाव के नतीजों की घोषणा हुई थी और गुरुवार को 14 दिनों की समय सीमा समाप्त हो रही थी.

'पहली बार नेतृत्व आज़ादी के बाद जन्मे लोगों के पास'

वहीं समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव ने भी मैनपुरी सीट छोड़ने और आज़मगढ़ सीट से सांसद रहने की घोषणा की है.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार