झारखंडः तेज़ आँधी और बारिश से सात की मौत

आँधी और बारिश इमेज कॉपीरइट PTI
Image caption शुक्रवार को राजधानी दिल्ली में तेज़ आँधी और बारिश के कारण भी कई लोगों की मौत हो गई.

झारखंड में शनिवार सुबह तेज आंधी के साथ होने वाली तेज़ बारिश में कम से कम सात लोगों की मौत हो गई. आंधी की वजह से जगह-जगह कच्चे मकानों, झुग्गी-झोपड़ियों और फ़सलो को भी नुकसान पहुंचा है, हालांकि सुबह के बाद से मौसम सामान्य बना हुआ है.

राज्य के चतरा ज़िले के सदर थाना क्षेत्र स्थित अकौना गाँव में एक मचान पर भारी पेड़ के गिरने से एक ही परिवार के चार लोगों की मौत हुई है.

मरने वालों में विजय यादव और उनकी दो बेटियां और एक बेटा शामिल हैं.

तीनों बच्चों की उम्र आठ से बारह साल के बीच है.

सात लोगों की मौत

चतरा ज़िले के उपायुक्त अमित कुमार ने इस घटना की पुष्टि की है. उन्होंने बताया है कि घर के अंदर जो लोग सोए थे, वो बच गए लेकिन घर के बाहर मचान पर सोए पिता और उनके तीन बच्चों की मौत मौके पर ही पेड़ से दबकर हो गई.

उपायुक्त के मुताबिक़ मृतक विजय यादव की पत्नी को पारिवारिक लाभ के तहत 20,000 रुपए की सहायता ज़िला प्रशासन की ओर से दी जाएगी और तत्काल उन्हें अनाज उपलब्ध करा दिया गया है.

अमित कुमार के अनुसार आर्थिक सहायता के अलावा अतिरिक्त डेढ़ लाख मुआवजे के लिए आपदा प्रबंधन विभाग, झारखंड सरकार को सिफ़ारिशी पत्र भी भेजा जाएगा.

इस बीच सदर थाना चतरा के दारोगा सियाराम मिश्रा ने बताया है कि सभी मृतकों का पोस्टमार्टम कराकर उनके घर वालों को शव सौंप दिए गए हैं.

दूसरी घटना धनबाद ज़िले के बलियापुर थाना क्षेत्र की है. सुबह अपने खेत में सब्जी तोड़ रहे लालू बाउरी की मौत वज्रपात से हो गई.

इस घटना में उनकी पत्नी परी देवी और पुत्र अमृत बाउरी भी मारे गए हैं. बलियापुर थाना के प्रभारी लक्ष्मण राम ने तीन लोगों के मारे जाने की पुष्टि कर दी है. उन्होंने बताया कि सभी शवों को पोस्टमार्टम के लिए ज़िला अस्पताल भेजा गया है.

उन्होंने बताया है कि सभी मृतक बांधटांड़ गाँव के रहने वाले थे. स्थानीय प्रशासन ने मृतक के परिजनों को तत्काल दस हज़ार रूपए की सहायता उपलब्ध कराई है.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार