कांग्रेस को मिले नेता विपक्ष का पद: सोनिया

इमेज कॉपीरइट AP

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पार्टी को लोकसभा में विपक्ष के नेता का पद दिए जाने की पुरज़ोर वकालत की है.

उनका कहना था कि कांग्रेस विपक्षी दलों में सबसे बड़ी पार्टी है.

संसद में विपक्ष के नेता के पद पर अभी कोई फ़ैसला नहीं हुआ है. लोकसभा में कांग्रेस के 44 सांसद हैं.

लोकसभा में नेता विपक्ष का पद पाने के लिए सदस्यों की कुल संख्या के 10 प्रतिशत सदस्य एक पार्टी के पास होने चाहिए.

इस हिसाब से विपक्ष के नेता का पद उसी पार्टी के नेता को मिल सकता है जिसके पास कम से कम 55 सांसद हों क्योंकि लोकसभा में सदस्यों की कुल संख्या 543 है.

भाजपा के आरोप

सोनिया गांधी ने बीजेपी के उन आरोपों को ख़ारिज़ किया जिनमें कहा गया था कि 'कांग्रेस इस पद के लिए बेचैन है और पार्टी लोकसभा में अपनी हार मान नहीं पाई है'.

इमेज कॉपीरइट pti
Image caption मल्लिकार्जुन खड़गे लोकसभा में कांग्रेस के नेता हैं

सोनिया का कहना था, "ये बिल्कुल ग़लत आरोप है. हम चुनाव हारे हैं. हम जानते हैं इस बात को."

उधर पार्टी नेता कमलनाथ ने कहा कि बीजेपी का यह तर्क बिल्कुल बकवास है कि ये मामला लोकसभा स्पीकर के पास है.

कमलनाथ के अनुसार ये कहना कि 'स्पीकर ने एक निर्देश दिया है, बहुत ही बेतुका तर्क है कांग्रेस को ये पद नहीं देने का'.

कांग्रेस ने लोकसभा में मल्लिकार्जुन खड़गे को अपना नेता नियुक्त किया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार