मलेशियाई विमान में 'नहीं था कोई भारतीय'

मलेशिया विमान हादसे में मृत लोगों के परिजन इमेज कॉपीरइट AP

भारत सरकार ने कहा है कि अब तक की जानकारी के यूक्रेन के वायुक्षेत्र में गिराए गए मलेशियाई यात्री विमान में कोई भारतीय नागरिक सवार नहीं था.

भारत के नागरिक उड्डयन मंत्री अशोक गजपति राजू ने पत्रकारों से कहा, "यह हादसा दुर्भाग्यपूर्ण है. हमारी जानकारी के हिसाब से उस विमान में कोई भारतीय सवार नहीं था."

नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने एयर इंडिया और जेट एयरवेज़ के विमानों को यूक्रेन के संघर्ष वाले क्षेत्रों से उड़ान नहीं भरने का आदेश दिया है.

निशाना बनाने से इनकार

नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने ये भी कहा है कि मलेशियाई विमान जिस समय हादसे का शिकार हुआ उस समय के आसपास वहाँ से एयर इंडिया की कोई उड़ान नहीं थी.

इमेज कॉपीरइट Reuters

मलेशिया एयरलाइंस के मुताबिक़ विमान एम्सटर्डम के शिफोल हवाई अड्डे से ग्रीनिच मान समय के मुताबिक़ गुरुवार 17 जुलाई को सुबह सवा दस बजे उड़ा था.

इसके चार घंटे बाद विमान से संपर्क टूट गया. इस उड़ान को कुआलालंपुर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर जीएमटी के मुताबिक़ रात 10 बजकर 10 मिनट पर पहुँचना था.

जिस समय विमान से संपर्क टूटा उस समय वह रूसी हवाई क्षेत्र में प्रवेश करने वाला था.

इस क्षेत्र में यूक्रेन सरकार और रूस समर्थक विद्रोहियों के बीच सशस्त्र संघर्ष चल रहा है. मगर दोनों ने ही विमान को निशाना बनाने से इनकार किया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार