सईद से भी ख़तरनाक लोगों के इंटरव्यू किए: वैदिक

इमेज कॉपीरइट ved pratap vaidik

पाकिस्तानी चरमपंथी हाफिज़ सईद से मुलाकात कर विवादों में आए भारतीय पत्रकार वेद प्रताप वैदिक ने कहा है कि उन्होंने कई और ख़तरनाक लोगों से इंटरव्यू किया है.

उन्होंने बीबीसी हिंदी रेडियो के कार्यक्रम 'इंडिया बोल' में कहा कि हाफ़िज सईद से उनकी मुलाकात को बहुत ज्यादा तूल दिया गया है.

उन्होंने हफ़ीज़ सईद से अपनी मुलाकात पर कहा कि वो इससे पहले लिट्टे नेता प्रभाकरण और चरमपंथी गुलबुद्दीन हिकमतयार जैसे लोगों के इंटरव्यू कर चुके हैं जो हाफ़िज सईद से भी ज़्यादा ख़तरनाक हैं.

कांग्रेस जहां हाफ़िज सईद से मुलाकात पर वैदिक की गिरफ़्तारी की मांग कर रही है, वहीं भाजपा का कहना है कि इस मुलाक़ात से सरकार का कोई लेना देना नहीं है.

भारत हाफ़िज़ सईद को मुंबई के 2008 के चरमपंथी हमलों का ज़िम्मेदार मानता है, जबकि अमरीका ने उन पर बतौर चरमपंथी कई प्रतिबंध लगा रखे हैं.

'ग़लती हुई'

वेद प्रताप वैदिक ने ज़रूर माना कि इस मामले में उनसे एक ग़लती हुई है.

'इंडिया बोल' के पैनल में शामिल वरिष्ठ पत्रकार राहुल देव ने वैदिक से कहा, "अगर हाफ़िज सईद के साथ वाली तस्वीर और इंटरव्यू अगर मीडिया में एक साथ आते, तब इस पर इतना विवाद नहीं होता."

इस पर वेद प्रताप वैदिक ने कहा, "हां, मैं आपसे सहमत हूं."

वैदिक ने एक बार फिर साफ़ किया कि उनकी हाफ़िज़ सईद से मुलाकात से सरकार का कोई लेना देना नहीं है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार