कोसी-बाढ़, 'नकलची' आमिर और मोदी इन नेपाल

  • 4 अगस्त 2014
इमेज कॉपीरइट NIRAJ SAHAI

सोशल सरगर्मी में कोसी क्षेत्र बाढ़ की आशंका, आमिर खान का पोस्टर और नेपाल में नरेंद्र मोदी.

कोसी नदी में बाढ़ की आशंका को लेकर फ़ेसबुक पर लोग पिछले तीन दिनों से अपनी चिंता व्यक्त कर रहे हैं. कुछ लोग लगातार उस इलाक़े से अपडेट्स कर रहे हैं जिसमें नेपाल सेना की तैयारी और बिहार सरकार के कामों की लगातार जानकारी मिल रही है.

कुछ लोग इस गंभीर मामले में भी मज़ाक नहीं भूल रहे हैं. कुछ लोगों ने ऐसे पोस्ट भी लगाए हैं कि जिले के अधिकारी अपने घर वालों से भी बात नहीं कर पा रहे हैं, मतलब वो वाकई काम कर रहे हैं.

अगर आप कोसी के आसपास कहीं हैं तो हमें आप ताज़ा हाल या तस्वीरें हमें भेजिए, ईमेल करिए hindi.letters@bbc.co.uk पर.

आमिर का पोस्टर

इमेज कॉपीरइट U TV

आमिर ख़ान की नग्न तस्वीर की सोशल मीडिया पर चर्चा तो थी ही लेकिन अब कुछ लोग वो फोटो भी शेयर कर रहे हैं जो कई लोग आमिर खान की पीके के पोस्टर की प्रेरणा मान रहे हैं.

असल में जिस पोज़ में आमिर ने फोटो खिंचाई है कुछ कुछ वैसे ही पोज़ में एक पोस्टर सत्तर के दशक में ही छप चुका है.

अगर आप इस पोस्टर के बारे में और जानना चाहें तो गूगल करें Quim Barreiros .

हम आपको बता दें कि क्विम बार्रेरोस पुर्तगाल के संगीतकार हैं और सत्तर के दशक में अपने एक एल्बम को प्रमोट करने के लिए उन्होंने भी ऐसी ही तस्वीर खिंचवाई थी.

तो क्या मिस्टर परफेक्शनिस्ट भी आइडिया चुराते हैं? सोशल मीडिया पर कई लोग ये सवाल पूछ रहे हैं.

और अब बात नरेंद्र मोदी इन नेपाल की

इमेज कॉपीरइट Narendra modi Facebook

ट्विटर पर तो #ModiInNepal ट्रेंड कर रहा है और फेसबुक पर भी लोग इसके बारे में बात कर रहे हैं.

पशुपतिनाथ मंदिर में मोदी का जाना. नेपाल के लिए मदद की घोषणा और काठमांडू की सड़कों पर लोगों से उनका मिलना, इन सबकी चर्चा हो रही है. तस्वीरें, पोस्ट और कमेंट सब किए जा रहे हैं लेकिन साथ ही कुछ लोग उस तस्वीर की वैधता पर सवाल उठा रहे हैं जो एक बच्चे जीत बहादुर से जुड़ी है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया था कि जीत बहादुर के माता-पिता मिल गए हैं और जल्दी ही जीत की मुलाकात उसके मां-बाप से होगी.

अख़बारों में इससे जुड़ी तस्वीरें छपी थी जिसमें जीत बहादुर के मां-बाप और मोदी भी दिखते हैं. फेसबुक पर कुछ लोग पोस्ट कर रहे हैं कि ये गलत है और जीत बहादुर दो साल पहले ही अपने मां-बाप से मिल चुका था.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार