धोनी की सुरक्षा घटाई गई

  • 12 अगस्त 2014
इमेज कॉपीरइट AFP

एक ज़माना था जब ट्वेन्टी-20 विश्व कप जीतने के बाद भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को उनकी सुरक्षा के लिए महिला कमांडो दिए गए थे. अब उनकी सुरक्षा कम कर दी गई है.

झारखंड पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों का कहना है कि धोनी की सुरक्षा को 'ज़ेड' श्रेणी से 'वाई' श्रेणी कर दिया गया है. इसके तहत उनकी सुरक्षा में लगे चार निजी सुरक्षा अधिकारियों में से सिर्फ दो ही रह जाएंगे जबकि पांच पुलिसकर्मियों की संख्या जस की तस बनी रहेगी.

पुलिस अधिकारियों का कहना है कि 'विशिष्ट' व्यक्तियों को दी जाने वाली सुरक्षा की समय-समय पर समीक्षा की जाती है.

यह समीक्षा राज्य की सुरक्षा संबंधी समिति करती है, जिसमें राज्य के वरिष्ठ पुलिस और केंद्रीय गुप्तचर विभाग के अधिकारी शामिल हैं. एक वरिष्ठ अधिकारी ने बीबीसी को बताया, "समीक्षा में धोनी को संभावित ख़तरों के उतने संकेत नहीं मिले हैं. उनकी सुरक्षा में कुल नौ सुरक्षाकर्मी थे, जिनकी संख्या अब सात हो गई है."

फ़ैसले का विरोध

इमेज कॉपीरइट PTI

धोनी समय-समय पर रांची स्थित अपने घर आते है जहाँ उनके माता, पिता, भाई, बहन और पत्नी रहते हैं. पुलिस का कहना है कि निजी सुरक्षा के अलावा धोनी के झारखंड आगमन पर सुरक्षा के कड़े इंतज़ाम किए जाते हैं.

सुरक्षा में कमी किए जाने की ख़बर से उनके प्रशंसक काफी नाराज़ हैं.

उनका कहना है कि राज्य में क़ानून व्यवस्था की स्थिति काफ़ी ख़राब है और ऐसे में धोनी की सुरक्षा में कमी करना ग़लत होगा. महेंद्र सिंह धोनी फैंस क्लब ने राज्य सरकार के इस फ़ैसले के ख़िलाफ़ सड़कों पर उतरकर आंदोलन करने की धमकी दी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार