'पुलिस को नहीं पता' कहाँ हैं मेघवाल

निहाल चंद मेघवाल के ख़िलाफ़ कांग्रेस का प्रदर्शन इमेज कॉपीरइट Reuters

जयपुर की एक स्थानीय अदालत ने मोदी सरकार में केंद्रीय मंत्री निहाल चंद मेघवाल को कथित दुष्कर्म के एक मामले गत 12 जून को समन भेज कर तलब किया था लेकिन पुलिस समन की तामील नहीं करा सकी.

इस बारे में पुलिस का कहना है कि मेघवाल सांसद बन गए हैं और दिल्ली में रहते हैं.

अदालत ने अब श्री गंगानगर के पुलिस अधीक्षक को केंद्रीय मंत्री को समन तामील कराने को कहा है.

पढ़ेंः 'पैसे लेकर रेप की शिकायत वापस ले लो'

यह मामला उस समय सुर्ख़ियो में आया जब एक विवाहिता ने मंत्री समेत 17 लोगों के विरुद्ध यौन शोषण करने का आरोप लगाया था. इसमें उनके पति का नाम भी शामिल है.

सीबीआई जाँच की माँग

इस बीच महिला अधिकारों की कार्यकर्ता कविता श्रीवास्तव ने कहा, "ये हाई प्रोफ़ाइल मामला है. इसमें कई प्रभावशाली लोग शामिल हैं. लिहाज़ा निष्पक्ष जांच के लिए इसे सीबीआई को सौंपा जाना चाहिए."

इसके अलावा कांग्रेस के एक नेता और बीजेपी सरकार के एक पूर्व मंत्री का नाम भी अभियुक्तों में शामिल है.

पढ़ेंः क्या निहाल चंद की कुर्सी ख़तरे में है?

पीड़िता के वकील चंदू लाल यादव कहते हैं, "ये ताज्जुब की बात है कि मेघवाल के केंद्रीय मंत्री होने के बावजूद पुलिस को उनका पता-ठिकाना नहीं मिल रहा है. दरअसल पुलिस राजनीतिक प्रभाव में काम कर रही है."

आरोपों से इनकार

केंद्रीय मंत्री इन आरोपों से इनकार करते रहे हैं. मेघवाल से जब उनके मोबाइल पर संपर्क किया गया तो उन्होंने बाद में बात करने की बात कहकर फ़ोन काट दिया.

पीड़िता का आरोप है कि उनके पति अपने राजनीतिक उत्थान के लिए उन्हें नेताओं और प्रभावशाली लोगों के हवाले करते रहे.

इमेज कॉपीरइट pib

उसने इस मामले में जयपुर में प्राथमिकी दर्ज़ करवाई लेकिन पुलिस ने इस मामले में अंतिम रिपोर्ट लगाकर कहा था कि आरोप प्रमाणित नहीं हुए हैं.

जयपुर की एक अदालत ने पुलिस की अंतिम रिपोर्ट को जब मंजूरी दे दी तो पीड़िता ने इसे अतिरिक्त सत्र अदालत में चुनौती दी.

अदालत ने इस मामले में आरोपियों को समन जारी कर तलब होने का आदेश दिया है. इनमें केंद्र सरकार में मंत्री मेघवाल का नाम भी शामिल है.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार