सीमा पर तनाव: गांव वालों का पलायन

गांव वालों का पलायन इमेज कॉपीरइट AP

भारत प्रशासित कश्मीर के आरएस पुरा सेक्टर के पास भारत और पाकिस्तान की ओर से जारी गोलीबारी की वजह से कई गांव वाले अपने-अपने घर छोड़कर जा चुके हैं जिससे यहां के कई गांवों में सन्नाटा छा गया है

भारतीय अधिकारियों के अनुसार रविवार रात से पाकिस्तान की तरफ़ से जारी गोलीबारी में तीन गांववाले घायल हो गए हैं.

इसके अलावा नियंत्रण रेखा के पास संघर्ष में दो भारतीय सैनिक और चार चरमपंथियों की मौत हो गई.

हालांकि सेना के अधिकारियों के मुताबिक़ सोमवार सुबह से फ़ायरिंग बंद है.

'तनाव'

इमेज कॉपीरइट AP

आरएस पुरा सेक्टर में पिछले शुक्रवार को पाकिस्तानी रेंजरों की गोलीबारी में एक ग्रामीण और उनके 13 वर्षीय बेटे की मौत हो गई थी.

सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ़) के इंस्पेक्टर जनरल राकेश कुमार ने बीबीसी से कहा, "पिछले कई दिनों से पाकिस्तान भारतीय चौकियों पर मोर्टार हमले और गोलीबारी कर रहा है. हम इस हमले का काफ़ी संयमित जवाब दे रहे हैं ताकि स्थानीय नागरिकों को कोई नुक़सान ना हो."

राकेश कुमार ने गांव वालों के पलायन की ख़बरों को ज़्यादा गंभीर नहीं क़रार दिया.

उन्होंने कहा, "कुछ स्थानीय लोग सुरक्षित जगह की तलाश में अपने घर से दूर ज़रूर चले गए हैं लेकिन ऐसा नहीं है कि पूरे के पूरे गांव ख़ाली हो गए हों."

दूसरी तरफ़ एक स्थानीय नागरिक ने बीबीसी को बताया कि गोलीबारी की वजह से गांववालों का बाहर निकलकर काम करना मुश्किल हो गया है.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)