मोदी के एनडीए से पहला दल बाहर

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

हरियाणा जनहित कांग्रेस ने भारतीय जनता पार्टी के साथ गठबंधन तोड़ने का फ़ैसला किया है. दोनों के बीच तीन साल से गठबंधन था.

हरियाणा में जल्द चुनाव होने वाले हैं हालांकि अभी तारीख़ों की घोषणा नहीं हुई है.

गुरुवार को चंडीगढ़ में पत्रकारों को संबोधित करते हुए पार्टी अध्यक्ष कुलदीप बिश्नोई ने गठबंधन टूटने के लिए भाजपा को ज़िम्मेदार बताया.

बिशनोई ने कहा कि उनकी पार्टी चुनाव से पहले पूर्व कांग्रेस नेता विनोद शर्मा की जन चेतना पार्टी के साथ गठबंधन करेगी.

इससे पहले बुधवार को हरियाणा में एक जनसभा में बिशनोई ने कहा था कि ''दग़ा देना भाजपा की फ़ितरत है."

इसपर भाजपा प्रवक्ता शाहनवाज़ हुसैन का कहना था कि भाजपा सबको साथ लेकर चलना चाहती है और किसी की शर्त की राजनीति नहीं करना चाहते.

उन्होंने ये भी कहा कि भाजपा हरियाणा में अकेले विधान सभा चुनाव लड़ेगी. हरियाणा विधान सभा में 90 सीटे हैं.

कुलदीप बिशनोई हरियाणा के पूर्व मुख्य मंत्री भजन लाल के छोटे बेटे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार