नई ऊंचाई पर बाज़ार, सेंसेक्स 27,000

सेंसेक्स इमेज कॉपीरइट Getty

मजबूत अंतर्राष्ट्रीय संकेत, जापान के भारत में भारी निवेश की घोषणा, चालू खाता घाटे में कमी और सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के उम्मीद से बेहतर आंकड़ों से सेंसेक्स पहली बार 27,000 के पार हो गया.

भारतीय शेयर बाज़ारों में तेज़ी का दौर लगातार आठवें कारोबारी सत्र में जारी रहा. छोटे-मझोले शेयरों ने भी ख़रीदारी के इस दौर में जमकर शिरकत की.

मंगलवार के कारोबार खत्म होने पर बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज यानी बीएसई का 30 शेयरों वाला इंडेक्स सेंसेक्स 152 अंकों की तेज़ी के साथ 27,019 पर बंद हुआ.

7 जुलाई को सेंसेक्स 26,000 के स्तर पर था और इसके 40 कारोबारी सत्रों के बाद यह 27,000 के स्तर पर पहुंच गया.

निफ्टी 8100

इमेज कॉपीरइट AFP

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का 50 शेयरों वाला इंडेक्स निफ्टी भी कारोबारी सत्र में 8,100 के पार चला गया था, हालांकि कारोबार खत्म होने पर यह 55 अंकों की तेज़ी के साथ 8,083 पर बंद हुआ.

केंद्रीय सांख्यिकी संगठन (सीएसओ) के हाल ही में जारी अप्रैल-जून तिमाही आंकड़ों के अनुसार चालू खाता घाटा जीडीपी का 1.7 प्रतिशत रह गया है, जबकि जीडीपी की विकास दर ढाई साल के उच्चतम स्तर 5.7 प्रतिशत पर पहुंच गई है.

मंगलवार के कारोबारी सत्र में कंज़्यूमर ड्यूरेबल्स, फार्मा और तेल-गैस शेयरों में जमकर ख़रीदारी हुई. हालांकि मेटल शेयरों में गिरावट का रुख रहा.

दिग्गज कंपनियों के शेयरों में भारती एयरटेल 4.24 प्रतिशत, सन फार्मा 2.5 प्रतिशत, एचडीएफ़सी बैंक लगभग 2 प्रतिशत, ओएनजीसी और आईटीसी लगभग सवा परसेंट की तेज़ी के साथ बंद हुए.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार