कश्मीरः बाढ़ में 70 से ज़्यादा की मौत

कश्मीर बाढ़ इमेज कॉपीरइट PTI

भारत प्रशासित कश्मीर में भारी बारिश और बाढ़ से कम से कम 70 लोगों की मौत हो गई है, जिसमें गुरुवार को बाढ़ में बही एक बस के 50 यात्री भी शामिल हैं.

अधिकारियों ने बताया कि इस बस में एक बारात जा रही थी जो राजौरी में बाढ़ में बह गई.

जम्मू डिविज़न के आयुक्त शांत मानु ने बीबीसी को बताया, "अब तक हमने चार शव निकाले हैं. नदी की धार पर तार बांध दिए गए हैं ताक़ि शव आगे न बहे."

दूसरी और राज्य सरकार ने बाढ़ संबंधित हादसों में अब तक 27 लोगों के मारे जाने की पुष्टि कर दी है. इनमें से 17 जम्मू के हैं और दस कश्मीर के.

कश्मीर के प्रशासक रोहित कंसल ने बताया कि राहत और बचाव कार्य तेज़ी से किए जा रहे हैं लेकिन ख़राब मौसम रुकावट बन रहा है.

इमेज कॉपीरइट PTI

हज़ारों बेघर

भारतीय सेना को भी सीमावर्ती चौकियाँ और रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण सथानों को संभालने में दिक़्क़तें आ रही हैं.

बाढ़ से फ़सलों और जानवरों को भी भारी नुक़सान हुआ है. अधिकारियों के मुताबिक एक हज़ार से ज़्यादा घर बह गए हैं.

इमेज कॉपीरइट EPA

जम्मू और कश्मीर के वित्त मंत्री अब्दुल रहीम राठेर ने पत्रकारों को बताया, "पाँच हज़ार लोगों को सुरक्षित निकाला गया है जबकि पाँच सौ अभी भी फँसे हैं. हमने मौसम का आपातकाल घोषित कर दिया है और सभी कर्मचारी चौबीस घंटे ड्यूटी पर हैं."

घाटी में झेलम और सिंधु नदियाँ और जम्मू में चिनाब का जलस्तर ख़तरे के निशान से बहुत ऊपर है जिससे नज़दीक़ी इलाक़ों में डर का माहौल है.

हज़ारों लोग अपना घर छोड़ गए हैं. श्रीनगर के कुछ इलाक़ों में भी पानी भर गया है.

मंत्री ने बताया, "सभी अस्पताल नदी किनारे ही हैं. हमें दो अस्पताल खाली कराने पड़े हैं."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार