शिक्षक दिवस पर खाने से 129 बच्चे बीमार

मिड डे मील इमेज कॉपीरइट
Image caption भारत के स्कूलों में बच्चों को मिड डे मील परोसा जाता है. (फ़ाइल तस्वीर)

झारखंड के दुमका ज़िले में एक मिशन आवासीय स्कूल में शिक्षक दिवस समारोह के खाने से 129 बच्चे बीमार हो गए हैं.

स्कूल के चार शिक्षक और कर्मचारियों की भी तबीयत बिगड़ गई है. शनिवार की शाम से उल्टी-दस्त और पेट दर्द से एक के बाद एक बच्चे तड़पने लगे थे.

दुमका के सिविल सार्जन सुरेश कुमार ने बताया है कि सदर अस्पताल में 91 बच्चों का इलाज चल रहा है.

दुमका जिले के विकास उप आयुक्त रमाशंकर प्रसाद का कहना है कि अधिकारियों की टीम अस्तपाल में मौजूद है और अभी प्राथमिकता है कि बच्चों का सही ढंग से इलाज हो.

सरकार ने पाकुड़ और धनबाद से चिकित्सकों के दल को दुमका भेजा है. सदर अस्पताल के अलावा शहर के उर्सिला अस्पताल में भी कई बीमार बच्चों को भर्ती कराया गया है.

सुरेश कुमार का कहना है कि बीमार बच्चों में फूड पॉइज़निंग के लक्षण पाए गए हैं. कई बीमार बच्चों की स्थिति में सुधार भी हो रहा है.

दुमका के रघुनाथपुर स्थित ख्रीस्ट राजा मिशन आवासीय स्कूल के प्रार्चाय फादर डी मरांडी ने बताया कि शनिवार को स्कूल के छात्र- छात्राओं ने शिक्षक दिवस समारोह का आयोजन किया था.

सभी बच्चों ने मिलकर पूड़ी-बिंदिया पकाया था जिसे समारोह के बाद छात्रों और शिक्षकों को परोसा गया.

इसके बाद एक-एक कर बच्चे उल्टी दस्त करने लगे. स्कूल के छात्रावास में कुल 146 छात्र- छात्राएं रहते हैं, जिनमें 129 बीमार हो गए.

स्थनीय ग्रामीण अस्पताल में स्थिति नहीं संभलने की वजह से इलाज के लिए बीमार बच्चो को दुमका ज़िला मुख्यालय लाया गया.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार