भड़काऊ भाषण पर आदित्यनाथ को नोटिस

  • 9 सितंबर 2014
योगी आदित्यनाथ इमेज कॉपीरइट www.yogiadityanath.in

चुनाव आयोग ने भारतीय जनता पार्टी के नेता योगी आदित्यनाथ को दंगों और अल्पसंख्यकों के बारे में उनके विवादास्पद बयानों के सिलसिले में नोटिस जारी किया है.

नोटिस गौतम बुद्ध नगर के ज़िला चुनाव अधिकारी की भेजी रिपोर्ट के आधार पर जारी किया गया है. रिपोर्ट में नोएडा में सात सितंबर को हुई चुनावी बैठक में दिए गए योगी आदित्य नाथ के भाषण का ज़िक्र है.

इसमें मुरादाबाद के कांठ में हुए सांप्रदायिक तनाव, दंगों और धार्मिक आस्था के बारे उनके बयानों का ख़ास तौर से ज़िक्र है.

नोटिस में कहा गया है कि उनके बयानों से चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन हुआ है, जिसके मुताबिक़ किसी धर्म और समुदाय को लेकर शत्रुता के भाव को बढ़ावा देने और नफ़रत फैलाने की इजाज़त नहीं है.

योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश में हो रहे उपचुनावों के लिए भारतीय जनता पार्टी की ओर से चुनाव प्रचार की कमान संभाले हुए हैं.

चुनाव आयोग के नोटिस में योगी आदित्यनाथ को प्रथम दृष्टया चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन का दोषी मानते हुए उनसे पूछा गया है कि उनके ख़िलाफ़ कार्रवाई क्यों ना की जाए.

नोटिस का जवाब देने के लिए उन्हें बुधवार तक का समय दिया गया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार