आपदाएँ: बार बार क्यों फ़ेल होती हैं सरकारें?

कश्मीर बाढ़ इमेज कॉपीरइट REUTERS

उत्तराखंड से लेकर कश्मीर तक प्राकृतिक आपदाएँ आने के बाद सरकारें चेती हैं और फिर भी आम लोग राहत के लिए सरकार की राह तकते रहे.

लेकिन दुनिया के कई देशों में इस तरह की आपदाओं से निपटने की पूरी तैयारी रहती है.

क्यूबा की सरकार ने कुछ साल पहले समुद्री तूफ़ान आने से पहले ही अपने नागरिकों को सुरक्षित स्थानों पर पहुँचा दिया था.

लेकिन जम्मू कश्मीर के मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्लाह ने कहा, "ना मैंने बारिश बुलाई थी और ना ही मैं उसे रोक सकता हूं."

आपदाओं के सामने सरकारें बेचारी क्यों लगने लगती हैं?

ऐसे ही सवालों पर होगी इस बार इंडिया बोल में बहस.

कार्यक्रम में शामिल होने के लिए शनिवार 13 सितंबर को भारतीय समयानुसार शाम साढ़े सात बजे मुफ़्त फ़ोन कीजिए 1800 102 7001 और 1800 11 7000 पर.

(आप हमें bbchindi.indiabol@gmail.com पर अपने नंबर भी भेज सकते हैं.)