भाजपा ने ठुकराया शिवसेना का फॉर्मूला

उद्धव ठाकरे इमेज कॉपीरइट PTI

महाराष्ट्र में शिव सेना और भाजपा के बीच तकरार बढ़ गई है और भाजपा ने सीटों के बंटवारे को लेकर उद्धव ठाकरे का नया फॉर्मूला ठुकरा दिया है.

शिव सेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने 25 साल पुराने गठबंधन को बचाने के लिए अंतिम कोशिश के रूप में एक नया फॉर्मूला दिया था.

उन्होंने शिव सेना के 151 और भाजपा के 119 सीटों पर चुनाव लड़ने का प्रस्ताव दिया था. बाक़ी 18 सीटें वह सहयोगी दलों को देने के लिए तैयार थे.

शिव सेना प्रमुख ने कहा कि लोकसभा चुनावों के दौरान उनकी पार्टी ने भाजपा की बात मानी थी इसलिए विधानसभा चुनाव में भाजपा को हमारी बात माननी चाहिए.

प्रस्ताव

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक़ उद्धव ने साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को याद दिलाते हुए कहा कि गुजरात दंगों के बाद बाल ठाकरे ने उनकी मदद की थी.

लेकिन भाजपा के प्रवक्ता विनोद तावड़े ने कहा कि शिव सेना के प्रस्ताव में नया कुछ भी नहीं हैं. भाजपा हमेशा 119 सीटों पर चुनाव लड़ती आई है.

इमेज कॉपीरइट AP

उन्होंने कहा कि शुरुआत में भाजपा ने 135 सीटों पर चुनाव लड़ने का प्रस्ताव दिया था लेकिन गठबंधन को बचाने के लिए वह 130 पर चुनाव लड़ने को तैयार हो गई थी.

भाजपा के नेता एकनाथ खड़से ने कहा कि जिन 59 सीटों पर शिव सेना लगातार हारती रही है उनमें बदलाव होना चाहिए.

खड़से ने कहा कि गठबंधन को बनाए रखना दोनों दलों की ज़िम्मेदारी है.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार