गोलाबारी के ज़रिए घुसपैठ की कोशिश: जेटली

इमेज कॉपीरइट AFP

भारत के रक्षा मंत्री अरुण जेटली ने आरोप लगाया है कि सीमा पर जारी गोलाबारी का मक़सद पाकिस्तान की तरफ़ से घुसपैठ कराना है.

सीमा पर कई दिनों से तनाव है और दोनों देश एक दूसरे पर युद्ध विराम का उल्लंघन करने का आरोप लगा रहे हैं.

जेटली ने कहा है कि पाकिस्तान शांति चाहता है तो उसे गोलाबारी रोकनी होगी.

कश्मीर में भारत और पाकिस्तान के बीच हो रही गोलीबारी में दोनों तरफ़ के अब तक 20 लोगों की जान चुकी है, जिनमें आठ भारतीय हैं और 12 पाकिस्तानी है.

कांग्रेस ने इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री से जवाब मांगा है. पार्टी नेता आनंद शर्मा ने कहा है कि प्रधानमंत्री चुनाव प्रचार में व्यस्त हैं और उनका ध्यान चुनाव जीतने पर है.

अरुण जेटली ने कहा, "भारत की अपने नागरिकों के प्रति ज़िम्मेदारी है. भारत की सेना ख़ास तौर पर बीएसएफ अपनी जमीन और नागरिकों की रक्षा के लिए जो जो क़दम उठा सकते हैं उठा रहे हैं."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)