आज़ाद हिंद फ़ौज के कैप्टन अली का निधन

  • 11 अक्तूबर 2014
अब्बास अली (फ़ाइल फोटो) इमेज कॉपीरइट
Image caption अब्बास अली 1948 में सोशलिस्ट पार्टी से जुड़े थे.

स्वाधीनता सेनानी और आज़ाद हिंद फ़ौज के कैप्टन अब्बास अली का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया. वे 92 साल के थे.

उन्होंने शनिवार को अलीगढ़ के जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज में अंतिम सांस ली.

अब्बास अली के पुत्र और बीबीसी के पूर्व संवाददाता क़ुरबान अली ने बताया कि मग़रिब की नमाज़ के बाद आज उन्हें सुपुर्द-ए-ख़ाक किया जाएगा.

कैप्टन अब्बास अली का जन्म तीन जनवरी 1922 को उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर ज़िले में हुआ था.

1939 में वे ब्रितानी सेना में भर्ती हुए पर 1945 में नेताजी सुभाष चंद्र बोस के आह्वान पर उन्होंने ब्रितानी सेना छोड़ दी और आज़ाद हिंद फौज में शामिल हो गए.

बाद में उन्हें गिरफ़्तार कर लिया गया, उनका कोर्ट मार्शल हुआ और उन्हें मौत की सज़ा सुनाई गई.

1947 में भारत की आज़ादी के साथ ही सरकार ने उन्हें रिहा कर दिया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार