हरियाणा: डेरों के इशारे का इंतज़ार

पवन, इंसा, सिरसा इमेज कॉपीरइट Daljit Ami

हरियाणा चुनाव पर विभिन्न डेरों के असर का अंदाजा डेरों में पहुंच रहे राजनेताओं की गिनती से हो जाता है.

राज्य में बहुपक्षीय मुक़ाबला होने के कारण बहुत कम वोट भी जीत और हार का अंतर तय कर सकते हैं. इसलिए सभी प्रत्याशी और पार्टियाँ डेरों को अपने पक्ष में करने में जुटी हैं.

सिरसा में सच्चा सौदा के अलावा नामधारी और राधा स्वामी सम्प्रदायों के डेरे हैं.

यह पूछने पर कि डेरा किस प्रत्याशी या पार्टी को समर्थन देगा, डेरा सच्चा सौदा के प्रवक्ता पवन इंसा ने बताया, "डेरे में आने वाले हर राजनेता से सत्रह मुददों पर लिखित आश्वासन लिया जा रहा है. लोगों की राय जानने के बाद डेरा का राजनीतिक विंग तय करेगा कि किस प्रत्याशी या पार्टी को समर्थन देना है."

आशीर्वाद

इमेज कॉपीरइट Daljit Ami

पवन इंसा ने कहा, "अलग-अलग पार्टियों को अलग-अलग जगह पर समर्थन दिया जा सकता है. ज़रूरी नहीं कि राजनीतिक विंग कोई निर्देश डेरा अनुयायियों को दे. फ़ैसला अनुयायियों पर भी छोड़ा जा सकता है."

कम्बोज बिरादरी से जुड़ा बाबा भूमण शाह का डेरा सिरसा, राणियां, कालांवाली, डबवाली और ऐलनाबाद निर्वाचन क्षेत्र में प्रभाव रखता है.

डेरा बाबा भूमण शाह के प्रवक्ता रामरखा कहते हैं, "बाबा भूमण शाह के डेरे पर तमाम पार्टियों के नेता आ रहे हैं. बाबा जी आशीर्वाद तो सभी को दे रहे हैं पर डेरा कभी भी अपने अनुयायियों को कोई निर्देश नहीं देता. सारे अनुयायी अपनी मर्ज़ी से वोट डालने के लिए आज़ाद हैं."

इशारों में समर्थन

इमेज कॉपीरइट Daljit Ami
Image caption कांग्रेस नेता हंसराज जोसन कहते हैं कि सभी नेताओं को उम्मीद है कि शायद इशारों ही इशारों में उन्हें डेरों का समर्थन मिल जाए.

हमारी बातचीत के दौरान ही पंजाब के पूर्व कांग्रेसी मंत्री हंसराज जोसन, भूमण शाह के डेरे पर पहुंच गए. उन्होंने अपने आने का कारण श्रद्धा और आशीर्वाद लेना बताया.

डेरे की चुनाव में भूमिका के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, "डेरों से आशीर्वाद तो सभी राजनेताओं को मिलता है पर राजनेता इस बात की उम्मीद भी करते हैं कि शायद इशारों में उनको समर्थन मिल जाए."

शायद इसी इशारे की उम्मीद में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज डेरा सच्चा सौदा पहुंची.

सिरसा के वरिष्ठ पत्रकार प्रभु दयाल राजनेताओं और डेरों के आपसी संबंध के बारे में बताते हैं, "बहुपक्षीय मुक़ाबले में डेरे निर्णायक भूमिका निभा सकते है. यह निर्णायक भूमिका ऐलान के साथ नहीं बल्कि इशारों में निभाई जाएगी."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार