आंध्र और ओडिशा में हुदहुद, 6 की मौत

  • 12 अक्तूबर 2014
चक्रवाती तूफ़ान हुदहुद इमेज कॉपीरइट AFP

बंगाल की खाड़ी से उठे चक्रवाती तूफ़ान हुदहुद के विशाखापत्तनम के तट से टकराने के बाद हुई भारी बारिश में छह लोगों की मौत हो गई है.

राष्ट्रीय आपदा राहत बल (एनडीआरएफ़) के प्रवक्ता अनिल शेखावत के अनुसार आंध्र प्रदेश में तूफ़ान से तीन लोगों की मौत हुई.

वहीं केंद्रीय कैबिनेट सचिव अजीत सेठ के अनुसार ओडिशा में तूफ़ान से जुड़ी घटनाओं में भी तीन लोगों की मौत हुई है.

तूफ़ान से विशाखापत्तनम समेत आंध्र प्रदेश के दो अन्य तटवर्ती ज़िलों श्रीकाकुलम और विजयनगरम में जनजीवन पूरी तरह अस्तव्यस्त हो गया है.

एनडीआरएफ़ के मुताबिक़ विशाखापत्तनम में तूफ़ान में फंसे छह लोगों को बचाया गया है.

मौसम विभाग के मुताबिक़ अगले छह घंटे में तूफ़ान की तीव्रता में 50 प्रतिशत की कमी देखने को मिल सकती है.

हुदहुद तूफ़ान का दायरा क़रीब 30 किलोमीटर बताया जा रहा है.

असर

इमेज कॉपीरइट JAMIE KEN NEDY

विशाखापत्तनम में 170-195 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार से हवाएं चल रही हैं और तेज़ बारिश हो रही है.

बीते साल आज के ही दिन पायलिन तूफ़ान ओडिशा और आंध्र प्रदेश के तट से टकराया था. हालांकि हुदहुद की तीव्रता पायलिन जितनी नहीं है.

छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, झारखंड, बिहार और पूर्वी उत्तर प्रदेश के इलाक़ों में भी हुदहुद की वजह से अगले कुछ दिनों तक तेज़ बारिश हो सकती है.

हवाई यातायात और रेल सेवाएं भी प्रभावित हुई हैं. हैदराबाद से स्थानीय पत्रकार धनंजय ने बताया कि हुदहुद के कारण लगभग 60 ट्रेनें रद्द की गई हैं.

राहत की तैयारी

इमेज कॉपीरइट AFP

एनडीआरएफ़ ने ओडिशा और आंध्र प्रदेश में हुदहुद से निपटने के लिए 42 टीमों के 1800 अधिकारी और जवान तैनात किए हैं.

सभी टीमें ज़रूरी राहत सामग्री के अलावा सैटेलाइट फ़ोन्स से लैस हैं.

ओडिशा, आंध्र प्रदेश और एनडीआरएफ़ ने क़रीब चार लाख लोगों को सुरक्षित इलाक़ों में पहुंचाया है.

भारतीय नौसेना भी तूफ़ान पर नज़र बनाए हुए हैं और उनकी राहत टीमें अलर्ट पर हैं. तूफ़ान के बाद राहत कार्यों के लिए नौसेना के पांच हेलीकॉप्टर भी तैयार हैं.

बाढ़ की आशंका

इमेज कॉपीरइट AP

ओडिशा में मौजूद स्थानीय पत्रकार संदीप साहू के अनुसार राज्य के दक्षिणी तट में गंजाम ज़िले के गोपालपुर और बेरहामपुर में भी तूफ़ान का असर देखने को मिला.

यहां हवा की गति क़रीब 70 किलोमीटर प्रति घंटा है और अगले कुछ घंटों में इसकी तीव्रता और बढ़ सकती है.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption पूर्वी तटवर्ती राज्यों में अगले तीन दिनों तक भारी बारिश के आसार हैं.

आंध्र प्रदेश के पांच ज़िलों- पूर्व और पश्चिम गोदावरी, श्रीकाकुलम, विजयनगरम और विशाखापत्तनम और ओडिशा में गंजाम, गजपति, कोरापुट और मलकानगिरि ज़िलों में भारी बारिश होने और तेज़ हवा चलने के आसार हैं.

ज़मीन पर टकराने के बाद तूफ़ान उत्तर दिशा की ओर बढ़ेगा जिससे अगले 48 घंटों में दक्षिणी ओडिशा के आठ ज़िलों, छत्तीसगढ़ और तेलंगाना में भारी बारिश हो सकती है.

इससे ओडिशा की कई नदियों में बाढ़ की आशंका है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार