मोदी प्रशंसक थरूर कांग्रेस प्रवक्ता नहीं

शशि थरूर इमेज कॉपीरइट PIB

कांग्रेस ने सोमवार को शशि थरूर को अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) के प्रवक्ता पद से हटा दिया है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ़ करने पर थरूर के ख़िलाफ़ पार्टी की केरल इकाई ने हाईकमान से अनुशासनात्मक कार्रवाई की मांग करते हुए शिकायत की थी.

'मोदी की तारीफ़'

शशि थरूर को स्वच्छ भारत अभियान में शामिल होने के लिए मोदी का निमंत्रण मिला था और उन्होंने मोदी की तारीफ़ भी की थी.

थरूर ने सभी आरोपों को ख़ारिज़ करते हुए कहा था कि उन्हें कांग्रेस कार्यकर्ता होने पर गर्व है और उन्होंने कभी भी 'हिंदुत्व के एजेंडे' का समर्थन नहीं किया.

इमेज कॉपीरइट Press Information Bureau

कांग्रेस के एक अन्य प्रवक्ता संदीप दीक्षित ने बीबीसी से बातचीत में फ़ैसले को सही बताया.

उन्होंने कहा, "जनप्रतिनिधियों का काम 'ब्रांड अंबेसडर' बनना नहीं है. इसके अलावा प्रवक्ता के रूप में सिर्फ़ पार्टी के नज़रिये को सामने रखना होता है, ऐसे में प्रवक्ता की ज़िम्मेदारी ख़ासी अहम होती है."

'मौका मिलता तो अच्छा होता'

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption शशि थरूर ने मोदी के स्वच्छ भारत अभियान की प्रशंसा की थी

शशि थरूर ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा कि उन्हें केरल कांग्रेस की शिकायत पर पक्ष रखने का मौका मिलता तो अच्छा रहता.

उन्होंने कहा कि वह कांग्रेस के समर्पित कार्यकर्ता हैं और प्रवक्ता पद की ज़िम्मेदारियों से मुक्त करने के पार्टी अध्यक्ष के फ़ैसले को स्वीकार करते हैं.

उन्होंने कहा, "मैं इस मामले को ख़त्म मान रहा हूं और मुझे इस पर कोई और प्रतिक्रिया नहीं देनी है."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार