नहीं रहा कथक का सितारा

  • 25 नवंबर 2014
सितारा देवी, कथक नृत्यांगना इमेज कॉपीरइट BBC World Service

मशहूर कथक नृत्यांगना सितारा देवी का मंगलवार को मुंबई के एक अस्पताल में 94 वर्ष की अवस्था में निधन हो गया.

उनके दामाद राजेश मिश्रा ने उनकी मृत्यु की पुष्टि की है. वो पिछले 10 दिनों से जसलोक हॉस्पिटल में भर्ती थीं.

1920 में कोलकाता में जन्मी सितारा देवी को कथक नृत्य की सबसे अग्रणी नृत्यांगनाओं में शुमार किया जाता था.

उन्हें संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार, पद्म श्री और कालिदास सम्मान से सम्मानित किया गया था.

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्विटर पर उनकी मृत्यु पर शोक व्यक्त किया.

उन्होंने 10 साल से भी कम उम्र में एकल नृत्य प्रदर्शन शुरू कर दिया था.

शास्त्रीय एकल नृत्य प्रदर्शनों के अलावा उन्होंने कई हिन्दी फ़िल्मों में भी काम किया था. उन्होंने चेतन आनन्द की फ़िल्म अंजलि में प्रसद्ध नागिन नृत्य किया था. महबूब ख़ान की फ़िल्म मदर इंडिया में उन्होंने होली गीत में लड़के के भेष में नृत्य किया था.

उनके पहले पति के आसिफ प्रसिद्ध फ़िल्म निर्देशक थे जिन्होंने मुग़ल-ए-आज़म फ़िल्म का निर्देशन किया था.

हालांकि बाद में उन्होंने शास्त्रीय नृत्य पर ध्यान देने के लिए फ़िल्मों में काम करना बंद कर दिया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार