ममता के 'बांस' वाले बयान पर बवाल

ममता बनर्जी, पश्चिम बंगाल, मुख्यमंत्री इमेज कॉपीरइट AFP

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के बुधवार को दिए गए एक बयान पर सोशल मीडिया में बहस छिड़ गई है.

इससे पहले केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति के बयान पर भी खूब बहस हुई थी.

ममता ने बुधवार को एक आम सभा में अपने भाषण के दौरान 'बंबू' शब्द का प्रयोग करते हुए विवादित बयान दिया था.

सोशल मीडिया में #bamboo और #mamta हैशटैग से इस मुद्दे पर ख़ूब टिप्पणियां की जा रही हैं.

ममता के बयान की तुलना साध्वी निरंजन ज्योति के विवादित बयान से की जा रही है.

ट्विटर पर एक यूज़र जतन आचार्य (@jatanacharya) ने लिखा है, "कट्टर नारीवादियों के लिए जश्न मनाने का मौक़ा है. ममता और साध्वी ने बेनीप्रसाद, ख़ुर्शीद और आज़म की बराबरी कर ली है."

भाषा पर लेक्चर

इमेज कॉपीरइट PTI
Image caption साध्वी निरंजन ज्योति

स्मिता बरूआ (@smitabarooah)ने ट्वीट किया, "जो पाखंडी लोग ममता के 'पेछोने बांस'(पीछे से बांस) बयान पर चुप रहे वो संसद में भाषा पर लेक्चर दे रहे हैं और संसद को बाधित कर रहे हैं. वॉव."

वहीं इंद्रजीत दासगुप्ता (@idxhot ) ने ट्विटर पर लिखा है, "चरमपंथ का संदेश ममता के अशोभनीय बयान में डूब गया."

निंरजन ज्योति के बयान पर बुधवार को राज्य सभा में विपक्षी दलों ने उनके इस्तीफ़े की माँग करते हुए सदन की कार्रवाई का बहिष्कार किया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार