साध्वी के बोल : संसद में फिर हंगामा

  • 5 दिसंबर 2014
साध्वी निरंजन ज्योती इमेज कॉपीरइट PTI

केंद्र सरकार में मंत्री साध्वी निरंजना ज्योति के अपमानजनक बयान पर संसद शुक्रवार को चौथे दिन भी गतिरोध हुआ.

कांग्रेस उपाध्यक्ष और सांसद राहुल गांधी से सदन से वाक आउट किया और संसद परिसर में अपने मुंह पर काली पट्टी बांधकर धरना दिया.

इमेज कॉपीरइट PIB
Image caption प्रधानमंत्री ने शुक्रवार को लोकसभा में इस मसले पर एक बार फिर बयान दिया.

इसके बाद भाजपा के सदस्यों ने संसद परिसर में गांधी प्रतिमा के पास धरना दिया. भाजपा सदस्य 'रघुपति राघव राजाराम', जैसे भजन गा रहे थे.

वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को फिर लोकसभा में बयान दिया. उन्होंने कहा कि साध्वी निरंजन ज्योति नई सांसद हैं और उन्होंने अपने बयान को लेकर माफ़ी मांग ली है.

प्रधानमंत्री का कहना था कि वो गांव से आती हैं और उनकी सामाजिक पृष्ठभूमि को देखते हुए इस मामले को अब यहीं ख़त्म कर देना चाहिए.

वहीं राज्यसभा में भाजपा नेता मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि दलित महिला मंत्री ने माफी मांग ली है. लेकिन उनके दलित होने की वजह से उन्हें निशाना बनाया जा रहा है. उन्होंने कहा कि विपक्ष हार की हताशा में इस मुद्दे को उठा रहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार