उबर पर 'बैन,' ड्राइवर रिमांड पर

  • 8 दिसंबर 2014
इमेज कॉपीरइट BBC World Service

दिल्ली सरकार ने राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में टैक्सी सर्विस उबर पर प्रतिबंध लगा दिया है.

ये क़दम शनिवार को इस टैक्सी सर्विस के एक ड्राइवर पर एक महिला यात्री के साथ बलात्कार करने के आरोप लगने के बाद उठाया गया है.

अदालत ने अभियुक्त ड्राइवर को तीन दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया है.

इस मामले को लेकर लोगों में काफ़ी रोष है. सोमवार को आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने गृह मंत्री राजनाथ सिंह के आवास पर विरोध भी जताया.

दिल्ली सरकार की तरफ़ से जारी बयान में कहा गया है, "परिवहन विभाग ने उबर.कॉम की तरफ़ से दी जाने वाली परिवहन सेवा से जुड़ी सभी गतिविधियों को तत्काल प्रभाव से प्रतिबंधित कर दिया है."

इमेज कॉपीरइट PA
Image caption उबर एक विदेशी टैक्सी सर्विस कंपनी है

उबर के प्रवक्ता ने इस फ़ैसले पर कुछ भी कहने से इनकार किया है, उन्होंने बस इतना ही कहा कि मामले की जांच जारी है.

पीड़ित महिला का कहना है कि उसने मोबाइल एप के ज़रिए टैक्सी बुक की थी, लेकिन ड्राइवर उसे एक सुनसान जगह पर ले गया और वहां उसका बलात्कार किया गया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार