आसाराम केस: रेप पीड़ित महिला लापता

आसाराम बापू इमेज कॉपीरइट AFP

आसाराम बापू पर बलात्कार का आरोप लगाने वाली एक विवाहित महिला पिछले एक हफ्ते से लापता है.

पुलिस ने गुरुवार को बताया कि 33 वर्षीय महिला अपने पति और बेटे के साथ लापता है.

महिला ने पिछले साल आसाराम बापू के ख़िलाफ़ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी. उसका आरोप था कि 1997 से 2006 के दौरान जब वह अहमदाबाद के बाहरी इलाक़े में स्थित आसाराम के आश्रम में रह रही थी, तब आसाराम ने उसके साथ बलात्कार किया था.

पीड़िता की छोटी बहन ने आसाराम के बेटे नारायण साईं पर 2002 से 2005 के बीच कई बार बलात्कार करने का मामला दर्ज कराया था.

गुमशुदगी की रिपोर्ट

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption आसाराम के बेटे नारायण साईं पर भी बलात्कार के आरोप हैं

सूरत ज़िले के पुलिस अधीक्षक प्रदीप शेजुल ने बीबीसी से कहा, "आसाराम के ख़िलाफ़ बलात्कार का मामला दर्ज कराने वाली पीड़िता एक हफ्ते से अधिक समय से अपने पति और बच्चे समेत लापता है."

उन्होंने बताया कि पुलिस ने पीड़िता की सुरक्षा के लिए चार कांस्टेबल नियुक्त किए हुए थे. 14 दिसंबर को पीड़िता ने पुलिसकर्मियों को बताया कि उसके परिवारवाले अमरोली इलाक़े में एक विवाह समारोह में शामिल होने के लिए जा रहे हैं और वहाँ उन्हें पुलिस सुरक्षा की आवश्यकता नहीं है.

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पुलिस कांस्टेबल पीड़िता के घर के बाहर ही तैनात रहे, लेकिन न तो महिला वापस लौटी और न ही उसके पति और बेटा.

उन्होंने बताया कि पीड़िता की सुरक्षा में तैनात कांस्टेबलों ने महिला की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई है.

शेजुल ने बताया, "उनके मोबाइल फोन ऑफ़ हैं, लेकिन हम उनके मोबाइल फोन रिकॉर्ड की जांच कर रहे हैं और उनके रिश्तेदारों से उन जगहों के बारे में पूछ रहे हैं जहाँ वो हो सकती हैं."

कोर्ट में अर्जी

इमेज कॉपीरइट pti

पुलिस अधीक्षक प्रदीप शेजुल ने बताया कि लापता होने के कई घंटों बाद महिला ने गांधीनगर की एक अदालत में अर्जी देकर कहा था कि वह सीआरपीसी की धारा 164 के तहत अपना बयान बदलना चाहती है, लेकिन कोर्ट ने सोमवार को पीड़िता की अर्जी ख़ारिज़ कर दी थी.

गुजरात पुलिस ने इस साल जनवरी में आसाराम के ख़िलाफ़ कोर्ट में आरोप पत्र दाखिल किया था.

आसाराम बापू फिलहाल बलात्कार के एक अन्य मामले में राजस्थान की जोधपुर जेल में बंद हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार