सेंसेक्स: 2014 में 6,000 अंक उछला

शेयर बाज़ार इमेज कॉपीरइट Getty

कारोबारी उम्मीदों पर सवार भारतीय शेयर बाज़ारों ने 2014 में ज़बर्दस्त छलांग मारी और सेंसेक्स 6,000 से अधिक अंक उछला.

इससे पहले साल 2009 में सेंसेक्स 7,817 अंक उछला था.

शेयर बाज़ार में निवेशकों ने जमकर मुनाफ़ा कमाया और निवेशकों की रकम पहली बार ऐतिहासिक 100 खरब रुपए तक पहुँच गई.

2014 के कारोबारी सत्र में अभी चंद दिन बचे हुए हैं और सेंसेक्स ने अभी तक कुल 6,038 अंकों की बढ़ोतरी दर्ज कर ली है.

प्रतिशत के लिहाज़ से भी सेंसेक्स में वर्ष 2009 के बाद यह सर्वाधिक 81 प्रतिशत की बढ़ोतरी है.

शेयरों में मुनाफ़ा

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption शेयर बाज़ार में निवेशकों की रकम 10 खरब रुपए तक पहुंच गई

जानकारों का मानना है कि भारत में लंबे समय बाद एक दल की बहुमत की सरकार बनने से निवेशकों का हौसला बढ़ा. विदेशी और घरेलू संस्थागत निवेशकों ने जमकर ख़रीदारी की.

2011 के बाद यह लगातार तीसरा साल होगा जब शेयर बाज़ार में बढ़त देखी गई.

सोने-चांदी की कीमतों में गिरावट से निवेशकों ने शेयरों का रुख़ किया.

जानकारों के मुताबिक शेयर बाज़ार के लिए अब भी अच्छे संकेत बने हुए हैं.

कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट का रुख़ है और विकसित देशों की अपेक्षा भारत जैसे विकासशील देशों की आर्थिक रफ़्तार बेहतर है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार