हर्षवर्धन के समर्थन में आए थरूर

शशि थरूर इमेज कॉपीरइट PIB

कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने केंद्रीय विज्ञान और तकनीक मंत्री हर्षवर्धन के उस बयान का समर्थन किया है जिसमें उन्होंने कहा है कि 'अलजेब्रा और पायथागोरस के सिद्धांत भारत की देन हैं लेकिन इसका श्रेय दूसरे देश ले उड़े.'

थरूर ने ट्वीट किया है कि प्राचीन भारत की विज्ञान की प्रमाणिक उपलब्धियों को "हिंदुत्व ब्रिगेड के बड़बोलेपन" के कारण ख़ारिज नहीं किया जाना चाहिए.

उन्होंने ट्वीट कर कहा, "आधुनिकतावादी इसका उपहास उड़ा रहे हैं, लेकिन उन्हें पता होना चाहिए कि हर्षवर्धन सही हैं."

'सुश्रुत पहले सर्जन'

इमेज कॉपीरइट PIB

शशि थरूर ने कहा, "गणेश की प्लास्टिक सर्जरी की बात बेतुकी है, लेकिन सुश्रुत दुनिया के पहले सर्जन थे."

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक़, हर्षवर्धन ने मुंबई में शनिवार को भारतीय विज्ञान कांग्रेस के समारोह में कहा था कि प्राचीन भारतीय वैज्ञानिकों ने खुशी-खुशी अपनी खोज का श्रेय दूसरे देशों के वैज्ञानिकों को दे दिया.

शशि थरूर को पिछले साल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छ भारत अभियान की तारीफ़ करने के कारण कांग्रेस के प्रवक्ता पद से हाथ धोना पड़ा था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार