'दुनिया भारत के साथ काम करने को आतुर'

इमेज कॉपीरइट AP

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि इस समय दुनिया की सबसे बड़ी चिंता वैश्विक अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाना है.

मोदी ने गांधीनगर में सातवें वाइब्रेंट गुजरात समिट को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री बनने के बाद वह देश-विदेश में जहां भी गए उन्हें यही चिंता दिखाई दी.

उन्होंने कहा कि सतत और समावेशी विकास के दम पर दुनिया की अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाया जा सकता है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत में दुनिया के विकास का इंजन बनने की क्षमता है और यही वजह है कि आज पूरी दुनिया भारत के साथ काम करने को आतुर है.

समिट

इमेज कॉपीरइट AP

सम्मेलन में भूटान और मेसीडोनिया के प्रधानमंत्रियों के अलावा संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून और अमरीका के विदेश मंत्री जॉन केरी सहित कई विदेशी नेता हिस्सा ले रहे हैं.

इसमें भारतीय और दुनिया की 50 से अधिक कंपनियों के सीईओ भी शामिल हो रहे हैं.

अमरीका, कनाडा और जापान सहित आठ देश वाइब्रेंट गुजरात समिट में हिस्सेदारी कर रहे हैं.

उम्मीद है कि इस आयोजन से गुजरात में बड़े पैमाने पर निवेस होगा. ‘वाइब्रेंट गुजरात’ का मकसद गुजरात में निवेश बढ़ाना है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार