आरबीआई से मिली राहत आप तक पहुचेगी?

रघुराम राजन इमेज कॉपीरइट Reuters

रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया ने रेपो रेट में 25 बेसिस प्वांइट की कटौती की है.

रेपो रेट अब 8 प्रतिशत से घटकर 7.75 प्रतिशत हो गई है.

रेपो रेट वो दर होती है जिसपर आरबीआई बैंको को ऋण देता है. यानि कि बैंकों को अब कम ब्याज़ पर आरबीआई से ऋण मिलेगा.

माना जा रहा है कि इसका सीधा असर ग्राहकों को मिलेगा जिन्हें बैंक से कम दरों पर ऋण मिल सकेंगे.

क्या लोगों को होगा फायदा ?

इमेज कॉपीरइट AFP

हालांकि ये बैंकों पर निर्भर करता है कि वो रेपो रेट का कितना फ़ायदा अपने ग्राहकों को देते हैं.

पिछले कुछ समय में मुद्रास्फिती की दर लगातार घट रही थी जिसकी वजह से रेपो रेट में कटौती की मांग बढ़ गई थी.

बाज़ार ने आरबीआई के इस फ़ैसले का स्वागत किया है. सेंसेक्स में 500 अंकों का उछाल आया है.

इमेज कॉपीरइट AFP

अर्थव्यवस्था में गतिविधियां बढ़ाने के लिये नीतिगत दरों में कटौती को ज़रुरी माना जा रहा था.

रिवर्स रेपो रेट वो दर है जिसपर रिज़र्व बैंक, बैंकों से उधार लेता है. अभी रिवर्स रेपो रेट 6.75 फ़ीसदी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार