दिल्ली चुनाव: इन 5 सीटों पर सबकी नज़र

इमेज कॉपीरइट Facebook Nupur Sharma Reuters

दिल्ली विधानसभा के चुनावी दंगल पर सबकी नज़रें टिकी हुई हैं.

दिन-प्रतिदिन हो रही राजनीतिक गतिविधियों ने इसे और रोचक बना दिया है.

भारतीय जनता पार्टी की ओर से किरण बेदी को मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बनाए जाने से दिल्ली की चुनावी लड़ाई अरविंद केजरीवाल बनाम किरण बेदी हो चुकी है.

हालांकि भारतीय जनता पार्टी ने किरण बेदी को अरविंद केजरीवाल के ख़िलाफ़ मैदान में नहीं उतारा है.

एक नजर दिल्ली में होने वाली पांच दिलचस्प चुनावी दंगल पर.

इमेज कॉपीरइट PTI

1. अरविंद केजरीवाल बनाम नूपुर शर्मा: नई दिल्ली सीट से आम आदमी पार्टी के अरविंद केजरीवाल के ख़िलाफ़ भारतीय जनता पार्टी ने दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र यूनियन की पूर्व अध्यक्ष नूपुर शर्मा को उम्मीदवार बनाया है. इस सीट से कांग्रेस ने शीला दीक्षित सरकार में स्वास्थ्य एवं शिक्षा मंत्री रहीं किरण वालिया को उम्मीदवार बनाया है.

इमेज कॉपीरइट PTI

2. किरण बेदी बनाम एसके बग्गा: भारतीय जनता पार्टी के मुख्यमंत्री पद की उम्मीदवार किरण बेदी को पार्टी ने अपने गढ़ कृष्णा नगर से उम्मीदवार बनाया है. उन्हें आम आदमी पार्टी के एसके बग्गा की चुनौती का सामना करना पड़ेगा. एसके बग्गा पहले कांग्रेस में थे और लोकसभा चुनाव से पहले वे आम आदमी पार्टी में शामिल हुए थे.

इमेज कॉपीरइट AFP

3.मनीष सिसोदिया बनाम विनोद कुमार बिन्नी: पटपड़गंज से आम आदमी पार्टी में नंबर 2 माने जाने वाले मनीष सिसोदिया को अपने ही पूर्व साथी को चुनौती मिलने जा रही है. यहां से भारतीय जनता पार्टी ने आम आदमी पार्टी के पूर्व नेता विनोद कुमार बिन्नी को उम्मीदवार बनाया है.

इमेज कॉपीरइट AFP

4.जगदीश मुखी बनाम सुरेश कुमार: जनकपुरी सीट पर भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता जगदीश मुखी को अपने ही घर से चुनौती मिल रही है. कांग्रेस ने उनके दामाद सुरेश कुमार को अपना उम्मीदवार बनाया है. यहां से आम आदमी पार्टी के राजेश ऋषि मैदान में हैं.

5. शर्मिष्ठा मुखर्जी बनाम सौरभ भारद्वाज: ग्रेटर कैलाश का चुनावी घमासान भी बेहद दिलचस्प होता दिख रहा है. आम आदमी पार्टी के युवा नेता और पिछले चुनाव में जीत हासिल करने वाले सौरभ भारद्वाज का मुक़ाबला राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की बेटी शर्मिष्ठा मुखर्जी से है. भारतीय जनता पार्टी ने अभी इस सीट से अपने उम्मीदवार की घोषणा नहीं की है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)