किरण-केजरी के क्षेत्र में कैसा है माहौल

दिल्ली मतदाता

नई दिल्ली को दिल्ली की प्रतिष्ठित सीट माना जाता रहा है और 2013 के चुनावों में अरविंद केजरीवाल ने यहाँ भारी उलटफेर किया था.

उन्होंने तत्कालीन मुख्यमंत्री और कांग्रेस की दिग्गज नेता शीला दीक्षित को 20,000 से अधिक मतों से हराया था.

आम आदमी पार्टी (आप) के नेता केजरीवाल के चुनाव क्षेत्र में पहुंचे बीबीसी संवाददाता नितिन श्रीवास्तव ने लिया जायज़ा.

इस बार अरविंद को शायद उतनी मेहनत भी नहीं करनी पड़े क्योंकि उनके ख़िलाफ़ कांग्रेस किरण वालिया और भाजपा की नूपुर शर्मा उम्मीदवार हैं.

केजरीवाल पर चर्चा

लेकिन इस बार मतदान केन्द्रों पर लोग आम आदमी पार्टी (आप) की बात पिछले बार की तुलना में कुछ ज़्यादा ही कर रहे हैं.

ख़ुद केजरीवाल ने बीके दत्त कॉलोनी में आकर जब मत डाला तब वहां सैकड़ों मीडियाकर्मी और उनके प्रशंसक जमा थे.

निज़ामुद्दीन बस्ती जैसे भीड़-भाड़ वाले इलाक़ों में मैं जितने लोगों से मिला लगभग सभी अपना मत दोपहर के पहले ही डाल आए थे.

ख़ुद केजरीवाल आश्वस्त दिखे. लेकिन कई बूथों पर भारतीय जनता पार्टी के बुज़ुर्ग समर्थक भी सुबह से मौजूद थे.

हैरानी की बात ये भी रही है कि बहुत काम लोग इस दफ़ा कांग्रेस की बात कर रहे हैं.

केजरीवाल के चुनाव क्षेत्र में मौजूद एक मतदाता इंदरजीत सिंह ने कहा, "हम बीस मिनट से इंतज़ार कर रहे हैं क्योंकि केजरीवाल अंदर वोट डाल रहे हैं. ऐसा नहीं होना चाहिए, सबकी सुविधा का ख़्याल रखना चाहिए."

वहीं एक दूसरे मतदाता उदय कुमार का कहना था, "चाहे आम आदमी पार्टी जीते या भारतीय जनता पार्टी, विकास ज़रूरी है, दिल्ली में सुधार होना चाहिए."

किरण बेदी और कृष्णानगर

बीबीसी संवाददाता इंदू पांडेय ने भाजपा की मुख्यमंत्री पद की उम्मीदवार किरण बेदी के चुनाव क्षेत्र का जायज़ा लिया.

इमेज कॉपीरइट KIRAN BEDI
Image caption डॉ हर्षवर्धन की परंपरागत सीट पर इस बार चुनाव लड़ रही हैं किरण बेदी.

दिल्ली का लगभग सात सौ साल पुराना गाँव है घोंडली. इसी गाँव की ज़मीन पर आसपास के इलाक़े बसे हुए हैं जिसमें से एक है कृष्णा नगर.

शनिवार को दिल्ली विधानसभा की 673 सीट के उम्मीदवार मैदान में हैं, जिनमें से 19 महिलाएं भी है. उन्हीं में एक हैं किरण बेदी.

बेदी के दिल्ली विधानसभा चुनाव मैदान में कूदने से कृष्णा नगर विधानसभा क्षेत्र में मुक़ाबला रोमांचक हो गया है.

टोपी का जलवा

इमेज कॉपीरइट Ravi Shankar Kumar

कृष्णा नगर सीट से कई बार विधायक रहे और केंद्रीय मंत्री डॉ हर्षवर्धन का कहना है कि इस बार भी पूर्ण बहुमत से भाजपा ही जीतेगी. वह अपने पूरे परिवार के साथ वोट डालने आए थे.

यह विधानसभा सीट शुरू से भाजपा के क़ब्ज़े में रही है. कांग्रेस ने इस सीट से पुराने नेता बंसीलाल को उतारा है.

तीसरे मजबूत प्रत्याशी आम आदमी पार्टी के एस के बग्गा है.

इमेज कॉपीरइट Ravi Shankar Kumar

यमुना पार के इलाक़े में जहाँ भी गए वहां अलग-अलग रंगों की टोपी में पार्टी के समर्थक नज़र आए.

बस फ़र्क़ इतना था की इन टोपी पर कुछ लिखा नहीं था बस नीली, सफ़ेद और भगवा रंग की टोपियां पहने लोग दिखे.

कृष्णा नगर विधानसभा क्षेत्र में साफ़ सफाई, जल निकासी, पार्किंग जैसी तमाम समस्याएं हैं. हल्की सी बारिश में ही कृष्णा नगर में जलभराव हो जाता है जिसका समाधान यहाँ के निवासी चाहते हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार