दिल्ली: इन मुद्दों पर वोट पड़ा

  • 10 फरवरी 2015
दिल्ली चुनाव

सात फ़रवरी को दिल्ली के 1.33 करोड़ से ज़्यादा मतदाताओं ने 673 उम्मीदवारों की क़िस्मत का फ़ैसला किया.

मुख्य मुक़ाबला आम आदमी पार्टी और भारतीय जनता पार्टी के बीच माना गया है, हालांकि कांग्रेस ने इसे त्रिकोणीय बनाने की पुरज़ोर कोशिश की.

एक नज़र उन चुनावी मुद्दों पर जिन्होंने तय की दिल्ली की दिशा.

बिजली

इमेज कॉपीरइट AP

'आप' ने अपने घोषणापत्र में बिजली के दाम आधे करने का वादा किया.

भाजपा ने अपने दृष्टिपत्र में कहा कि अगर उसकी सरकार बनी तो बिजली सस्ती की जाएगी.

पानी

इमेज कॉपीरइट Reuters

'आप' ने 20,000 लीटर पानी मुफ़्त देने का वादा किया.

भाजपा ने हर घर को पानी पहुंचाने की बात कही.

महिला सुरक्षा

महिला सुरक्षा सभी दलों की प्राथमिकता है. 'आप' ने बसों में होमगार्ड तैनात करने का वादा किया.

भाजपा ने कहा है कि महिला सुरक्षा पार्टी की प्राथमिकता में है.

अवैध कॉलोनी

'आप' ने अवैध कॉलोनियों को नियमित करने का वादा किया.

भाजपा का कहना है कि जहां झुग्गी है वहां पक्के मकान बनाए जाएंगे.

पूर्ण राज्य

'आप' ने पूर्ण राज्य के दर्जे के लिए संघर्ष करने का ऐलान किया.

मगर भाजपा इस मुद्दे पर ख़ामोश रही.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार