'नसीब बिगाड़ने' वाले मोदी के 7 जुमले ?

दिल्ली विधानसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल की ख़ूब आलोचना की.

मोदी के चुनावी जुमले

1. द्वारका की चुनावी रैली - ''जिन लोगों को सिर्फ टीवी पर आने का शौक है, वो सरकार नहीं चला सकते.''

2. इसी रैली में - ''दिल्ली में ऐसी सरकार चाहिए, जो मोदी से डरे, भारत सरकार से डरे, जिसको केंद्र की परवाह नहीं, वह क्या सरकार चलाएगा?''

3. इसी रैली में - "मेरी सरकार बनते ही, देश में पेट्रोल-डीजल के दाम गिर गए. लोग कहते हैं यह तो मोदी का नसीब है, इसमें बुरा क्या है?"

4. शाहदारा की चुनावी रैली में - "पिछले वर्ष आपने जिसे वोट दिया, उसने आपकी पीठ में छूरा घोंपा और आपके सपने चूर-चूर हो गए. दिल्ली धोखेबाज़ों को वोट नहीं देगी."

5. रामलीला मैदान - "हमें यहां विकास चाहिए, अराजकता नहीं. उनकी मास्टरी धरना करने में है. हमारी मास्टरी सरकार चलाने में हैं."

6. सर्वेक्षणों पर - "हिंदुस्तान में लोगों को गुमराह करने के लिए कैसी कैसी कांस्पाइरेसी की जाती है. पिछले विधानसभा चुनाव के दौरान सीना तान कर कुछ बाजारू लोग सर्वे घोषित करते थे और 50 सीट दे दी थी, अख़बार निकाल कर देखो और आपको सबूत मिल जाएगा. जब परिणाम आए तो वे सबसे बड़े दल के तौर पर भी नहीं आ पाए थे."

7. चुनावी फंडिंग पर - "मुझे तो इस बात का अचरज है कि उन्हें महात्मा गांधी और बराक ओबामा तक ने चंदा दिया है !"

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार