नीतीश को हाई कोर्ट से झटका

नीतीश कुमार इमेज कॉपीरइट PTI

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को जनता दल-यूनाइटेड (जद-यू) विधायक दल के नेता के तौर पर स्पीकर की मान्यता दिए जाने पर पटना हाई कोर्ट ने रोक लगा दी है.

जद-यू विधायक राजेश्वर राज ने स्पीकर के इस फ़ैसले को चुनौती दी थी. पिछले दिनों पार्टी अध्यक्ष शरद यादव की ओर से बुलाई गई बैठक में नीतीश कुमार को विधायक दल का नेता चुना गया था जिसे स्पीकर ने अपनी स्वीकृति दे दी थी.

विधायक राजेश्वर राज की याचिका पर मंगलवार को ही सुनवाई होनी थी, लेकिन किसी कारणवश ऐसा नहीं हो सका. इस मामले की अगली सुनवाई अब 17 फ़रवरी को होगी.

राजेश्वर राज रोहतास ज़िले के काराकट विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं. वो मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी के समर्थक हैं, जिन्हें सोमवार को जद-यू से निष्कासित कर दिया गया है.

मुख्यमंत्री समर्थक

इमेज कॉपीरइट PTI
Image caption जीतन राम मांझी को जनता दल यूनाइटेड ने पार्टी से निलंबित कर दिया है.

विधानसभा में जीतन राम मांझी को अंसबद्ध विधायक का दर्जा दिया गया है.

नीतीश कुमार ने सोमवार को राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश किया था. वहीं मांझी का कहना है कि राज्यपाल के कहने पर वो सदन में बहुमत साबित कर देंगे.

नीतीश कुमार ने जद-यू, राजद, कांग्रेस और भाकपा के 130 विधायकों का समर्थन होने का दावा किया है. वो इन विधायकों के साथ दिल्ली में डेरा डाले हुए हैं.

वो बुधवार शाम अपने समर्थक विधायकों के साथ राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से मिलने वाले हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार