नीतीश 22 को फिर बनेंगे मुख्यमंत्री

  • 20 फरवरी 2015
बिहार की बागडोर एक बार फिर नीतीश के हाथों इमेज कॉपीरइट PTI

जनता दल (यूनाइटेड) के नेता नीतीश कुमार 22 फ़रवरी शाम पांच बजे बिहार के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे.

कार्यवाहक राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी से मुलाक़ात करने के बाद खुद नीतीश कुमार ने यह ऐलान किया.

उन्होंने यह भी कहा कि राज्यपाल ने उन्हें 16 मार्च तक विधानसभा में अपना बहुमत साबित करने को कहा है.

16 मार्च तक बहुमत करना होगा

इमेज कॉपीरइट Bihar Govt

तेज़ी से बदलते राजनीतिक घटनाक्रम के दौरान बिहार के मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी को शुक्रवार को विधानसभा में अपना बहुमत साबित करना था. पर उन्होंने तय समय से पहले ही अपना इस्तीफ़ा राज्यपाल को सौंप दिया. राज्यपाल ने इस्तीफ़ा स्वीकार कर उन्हें नई सरकार बनने तक अपने पद पर बने रहने को कहा.

बिहार में सियासी उठापटक तब शुरू हुई जब जनता दल यूनाइटेड ने मांझी को मुख्यमंत्री पद से हट जाने को कहा, जिससे उन्होंने साफ़ शब्दों में इंकार कर दिया.

इसके बाद जनता दल यूनाइटेड ने बिहार विधानमंडल दल का नेता नीतीश कुमार को चुना और मांझी को पार्टी से निकाल दिया.

नीतीश चौथी बार बनेंगे मुख्यमंत्री

इमेज कॉपीरइट manish shandilya

नीतीश कुमार ने राज्यपाल से मिल कर सरकार बनाने का दावा किया. राष्ट्रीय जनता दल, कांग्रेस, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी और एक निर्दलीय विधायक ने नीतीश कुमार को समर्थन देने की घोषणा की.

राज्यपाल ने मुख्यमंत्री से 20 फ़रवरी को सदन में बहुमत साबित करने को कहा.

जीतन राम मांझी ने दिल्ली जा कर भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से मुलाक़ात की थी और नरेंद्र मोदी की तारीफ़ की थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)