क्या हुआ मोदी सरकार के पहले नौ महीनों में?

  • 23 फरवरी 2015
इमेज कॉपीरइट PIB

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने लोकसभा और राज्यसभा की संयुक्त बैठक को सोमवार को संबोधित किया. इसके साथ ही संसद का बज़ट सत्र शुरू हो गया.

मुखर्जी ने अपने अभिभाषण में सरकार की बीते नौ महीनों की उपलब्धियां गिनाईं.

मुख्य बातें

इमेज कॉपीरइट Press Information Bureau
Image caption नरेंद्र मोदी ने पिछले साल स्वच्छ भारत अभियान की शुरुआत की थी.

1. प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत 13.2 करोड़ बैंक खाते खोले गए. लोगों ने इसके तहत 11 हजार करोड़ रुपए बैंकों में जमा कराए. सरकार ने यह लक्ष्य छह महीने में हासिल कर लिया.

2. पूरे देश को 'स्वच्छ भारत मिशन' अभियान के तहत अक्टूबर 2019 तक जोड़ने का लक्ष्य रखा गया है. साथ ही स्वच्छ विद्यालय मिशन के अंतर्गत 15 अगस्त 2015 तक सभी स्कूलों को इससे जोड़ा जाएगा.

3. सभी सांसदों से अपील की गई कि वे सासंद निधि का कम से कम 50 फ़ीसदी धन स्वच्छ भारत मिशन अभियान पर ख़र्च करें.

4. किसानों के हितों के लिए भूमि अधिग्रहण क़ानून में अधिक पारदर्शिता लाई गई है.

5. महिलाओं की सुरक्षा के लिए कई नीतियां बनाई जा रही हैं. इसे आगे बढ़ाते हुए दिल्ली में 'हिम्मत' नामक ऐप लॉन्च किया गया.

6. शिशु लिंग अनुपात में लगातार कमी रोकने के लिए सरकार ने 'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' योजना शुरू की.

7. काला धन रोकने के लिए सरकार पूरी तरह प्रतिबद्ध है. इसे राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर रोकने के लिए हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं.

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption मोदी सरकार के नौ महीने पूरे होने पर उनकी उपलब्धियों के बारे में मीडिया में चर्चा हो रही है.

8. 'मेक इन इंडिया' कार्यक्रम के तहत भारत को उत्पादन का केंद्र बनाने के लिए हर संभव कोशिश की जा रही है.

9. 'दीन दयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना' के तहत गांवों को चौबीसों घंटे बिजली दी जाएगी. इस पर 40 हज़ार करोड़ रुपए से ज़्यादा ख़र्च होंगे.

10. सरकार पड़ोसी देशों से संबंध बेहतर करने के लिए प्रतिबद्ध है. अपने हित साफ़ करते हुए अपनी सीमाओं की रक्षा और जनसुरक्षा के लिए सरकार पूरी तरह तैयार है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार