"भारत अभी दहाड़ता शेर नहीं है"

  • 28 फरवरी 2015
मेक इन इंडिया इमेज कॉपीरइट MAKE IN INDIA

प्रधानमंत्री के मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रह्मण्यन ने कहा है कि भारत अभी 'दहाड़ता शेर' नहीं बल्कि एक उबर रही अर्थव्यवस्था है.

आर्थिक सर्वेक्षण के मुताबिक़ भारत की विकास दर अगले साल 8 प्रतिशत रहने वाली है, आर्थिक सर्वेक्षण को अर्थव्यवस्था की 'प्रोग्रेस रिपोर्ट' कहा जाता है.

रिपोर्ट तैयार करने वाले प्रतिष्ठित अर्थशास्त्री सुब्रह्मण्यन ने टीवी चैनल एनडीटीवी से बात करते हुए माना कि आँकड़े "चक्कर में डालने वाले हैं क्योंकि वे अर्थव्यवस्था की हालत से मेल खाते नहीं दिख रहे."

जो वित्त वर्ष ख़त्म हुआ है उसमें विकास दर 7.4 प्रतिशत रही थी.

इमेज कॉपीरइट PIB

सुब्रह्मण्यन ने एक सवाल के जवाब में कहा, "भारत अब भी एक संभल रही अर्थव्यवस्था है, ऐसी ज़ोर मार रही अर्थव्यवस्था नहीं है जिसे टाइगर कहा जाए."

आर्थिक सर्वेक्षण में कहा गया है कि तेल की क़ीमतें कम होने, महँगाई नीचे रहने और आर्थिक सुधारों का असर होने की वजह से भारत की विकास दर अगले वर्ष बेहतर हो सकती है लेकिन सुब्रह्मण्यन ने कहा कि वे स्थिति को सतर्कता के साथ आँक रहे हैं.

पिछले महीने सरकार ने आर्थिक विकास की दर में संशोधन किया था, और विकास दर को 4.7 प्रतिशत से बढ़ाकर 6.9 प्रतिशत बताया था, ऐसा विकास को मापने के तरीक़े में बदलाव की वजह से हुआ था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए