पुलवामा में तेंदुए की मौत पर जश्न

पुलवामा में आदमख़ोर तेंदुआ मारा गया इमेज कॉपीरइट Majid Jahangir

जम्मू कश्मीर के पुलवामा ज़िले में शुक्रवार की शाम को एक आदमख़ोर तेंदुआ मारा गया.

ये तेंदुआ इंसानी बस्ती में घुस आया जिसके बाद लोगों ने इसे एक गुफ़ा में क़ैद कर लिया और वहां दम घुटने से इसकी मौत हो गई.

श्रीनगर से 45 किलोमीटर दूर ज़ोडूरा इलाके में लोगों ने तेंदुए की मौत का जश्न जूलूस निकाल कर किया.

ज़ोडूरा के लोगों का कहना है कि तेंदुए के इलाके में घुस आने से लोग डर गए थे. लोगों ने इसे डंडों से हांकना शुरू किया जिससे डर कर तेंदुआ एक गुफ़ा में घुस गया. यहां दम़ घुटने से इसकी मौत हो गई.

तेंदुए से परेशान थे लोग

ज़ोडूरा के निवासी अब्दुल रहमान ने बताया , "हमने वन विभाग के कर्मचारियों का बहुत इंतज़ार किया लेकिन वह नहीं आए, जिस के बाद हमारे यहाँ आए एक मेहमान ने तेंदुए को गुफ़ा में क़ैद कर लिया. बदक़िस्मती से गुफ़ा में दम घुटने से तेंदुए की मौत हो गई."

वन विभाग के जिला अधिकारी रियाज़ अहमद गुल ने बीबीसी को बताया, "रास्ते मैं ट्रैफिक की वजह से हमें पहुंचने में देर हो गई. अभी पोस्टमार्टम की रिपोर्ट सामने नहीं आई है जिससे इस बात का पता चलेगा कि तेंदुए की मौत दम घुटने से हुई है या डंडों की मार से हुई है."

गुल के मुताबिक़ विभाग ने पुलवामा पुलिस स्टेशन में स्थानीय लोगों के खिलाफ़ मामला दर्ज किया है.

उन्होंने बताया कि मारे गए तेंदुए ने पिछले कई महीनों से इलाके में दहशत मचाई हुई थी और कई लोगों को ज़ख्मी भी किया था.

पिछले कई वर्षों में कश्मीर घाटी में जंगली जानवरों के इंसानी बस्तियों में दाख़िल होने के मामले में बढ़े हैं. वन विभाग के आंकड़ों के मुताबिक़ पिछले साल जंगली जानवरों ने 40 लोगों को ज़ख़्मी किया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)